खिलाड़ी बन गया दुनिया का सबसे खतरनाक गेंदबाज, विकेटकीपर बनना चाहता था…

Loading...

विश्‍व के सबसे खतरनाक गेंदबाजों में शुमार ऑस्‍ट्रेलिया के मिचेल स्‍टार्क ने खुलासा किया है कि बचपन से ही क्रिकेट उनका पैशन रहा है। इस खेल में वह विकेटकीपर बनने का सपना लेकर उतरे थे लेकिन समय की मांग और परिस्थितियों ने उन्‍हें तेज गेंदबाज बना दिया। उन्‍होंने कहा कि उन्‍हें जो मिला वह बस उसमें अपना जुनून झोंकते गए और दर्शकों का प्‍यार मिला तो वह ऑस्‍ट्रेलिया के महत्‍वपूर्ण गेंदबाज बन गए।

इंग्‍लैंड में चल रहे वर्ल्‍ड कप के 12वें संस्‍करण में सर्वाधिक विकेट हासिल कर नंबर एक की पोजीशन पर बरकरार ऑस्‍ट्रेलिया के मिचेल स्‍टार्क मंगलवार को इंग्‍लैंड के खिलाफ होने वाले मैच में अपनी सनसनाती गेंदों से आग उगलने वाले हैं। मैच से पहले मिचेल स्‍टार्क ने कहा कि वह बचपन से ही क्रिकेटर बनना चाहते थे, लेकिन टीम में वह बतौर विकेटकीपर शामिल होने की इच्‍छा रखते थे, लेकिन सिडनी में अंडर 16 टीम के मैच के दौरान कोच ने सजेशन के बाद वह गेंदबाजी भी करने लगे। मिचेल स्‍टार्क ने कहा कि गेंदबाजी प्रैक्टिस के दौरान उनके एक्‍शन और तेज जाती गेंदों से कोच प्रभावित हुए और धीरे धीरे वह तेज गेंदबाज बन गए।

ऑस्‍ट्रेलिया के तूफानी गेंदबाज ने कहा कि उनकी टीम वनडे क्रिकेट में हमेशा से ही अच्‍छा प्रदर्शन करती रही है। वह पिछले पांच वर्ल्‍ड कप खिताब जीत चुके हैं। उन्‍होंने कहा कि डिफेंडिंग चैंपियन ऑस्‍ट्रेलिया इस बार भी वर्ल्‍ड कप का खिताब उठाने के लिए तैयार है। इस वर्ल्‍ड कप के सर्वश्रेष्‍ठ गेंदबाजों की लिस्‍ट में मिचेल स्‍टार्क नंबर वन पोजीशन पर हैं। मिचेल 15 विकेट हासिल कर चुके हैं। उनके अलावा इंग्‍लैंड जोफ्रा आर्चर और पाकिस्‍तान के मोहम्‍मद आमिर भी 15-15 विकेट हासिल कर संयुक्‍त रूप से पहले नंबर पर काबिज हैं। वर्ल्‍ड कप में ऑस्‍ट्रेलिया अब तक खेले अपने 6 मैचों में 5 जीत चुकी है। जबकि एक मैच में उसे भारत ने करारी शिकस्‍त दी है। अंकतालिका में ऑस्‍ट्रेलिया 10 अंकों के साथ दूसरे स्‍थान पर है।  

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *