Home > धर्म > क्या आपके एक्वेरियम में है इस रंग की मछली? जमकर बरसाती है पैसा

क्या आपके एक्वेरियम में है इस रंग की मछली? जमकर बरसाती है पैसा

अक्सर लोग घरों में कुत्ता, खरगोश या कोई पक्षी पालते है, लेकिन क्या आपने कभी इन्हें शुभ और अशुभ से जोड़कर देखा है। दरअसल हमें इनमें से जो भी अच्छा लगता है, उन्हें घर पर लेकर आते है, ज्यादातर लोग कुत्तों को पालते हैं, लेकिन कभी यह जानने की कोशिश नहीं करते है वो पालतु जानवर कितना शुभ रहेगा। ये जानवर भी आपकी आर्थिक स्थिति, मानसिक परेशानी आदि का प्रभावित करते हैं। जानें किस जानवर को घर में पालना चाहिए।क्या आपके एक्वेरियम में है इस रंग की मछली? जमकर बरसाती है पैसा

– आजकल अधिकतर घरों में एक्वेरियम रखा जाने लगा है, जिसमें कई रंग बिरंगी मछलियां होती हैं। वैसे तो सभी मछलियां शुभ होती हैं, लेकिन सुनहरे रंग की मछलियों से घर में शांति का वास रहता है।

– कुत्ता सबसे पालतु और वफादार जानवर होता है। एक ये भी वजह  है कि इसे घर में पालने की। वहीं हिन्दु धर्म में कुत्ते ‌को भैरव का सेवक माना जाता है। ऐसे में घर में कुत्ते को पालना शुभ होता है और उसे रोज समय समय पर भोजन करवाने से धन दौलत की भी प्राप्ति होती है।

मेढ़क

– बारिश में दिनों में आपको अपने आस पास मेढ़क नजर आ ही जाएंगे, लेकिन जब इन्हें पालने की बात आती है  तो लोग इससे दूर भागते है। वैसे वास्तुशास्‍त्र के अनुसार मेढ़क को शुभ माना जाता है। इन्हें घर में पालने से बीमारियां दूर ही रहती हैं। अगर आप मेढ़क पाल नहीं सकते तो फिर पीतल का मेढ़क रखें और रोज घर से निकलने से पहले इसे देखना ना भूलें।

– कहा जाता है कि तोता घर में आने वाली परेशानियों को पहले भी भांप जाता है। इसीलिए अगर आप घर में तोता पालेंगे तो आपको आने वाली परेशानियों का आभास होगा और आपके पास उस परेशानी से निपटने का भी समय रहेगा।

– घोड़ा ऐश्वर्य का प्रतीक होता है। हालांकि घर में सभी के लिए घोड़ा पालना आसान नहीं होता। ऐसे में घर में घोड़े की प्रतिमा रखना भी शुभ होता है।

– वास्तु के अनुसार घर में खरगोश पालने से समृद्घि आती है

Loading...

Check Also

मौत आने से ठीक पहले मिलते हैं व्यक्ति को कुछ ऐसे संकेत, बस समझने की है जरूरत

मौत आने से ठीक पहले मिलते हैं व्यक्ति को कुछ ऐसे संकेत, बस समझने की है जरूरत

हर व्‍यक्ति यह भलीभांति जानता है कि एक न एक दिन उसके नश्‍वर शरीर को …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com