कोलकाता: 88 फीट ऊंची देवी की प्रतिमा के दर्शन के दौरान भगदड़, 11 लोग जख्‍मी

a154-300x233कोलकाता, 19 अक्‍टूबर. दुर्गा पूजा के दौरान कोलकाता में 88 फीट ऊंची देवी की प्रतिमा देखने आए श्रद्धालुओं के बीच रविवार रात भगदड़ मच गई। इस वजह से पुलिस ने सोमवार को दर्शन पर रोक लगा दी। भगदड़ में 11 लोग जख्मी हुए हैं। हादसा पंचमी के मौके पर देशोप्रियो पार्क के पंडाल में हुआ। मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि प्रतिमा को देखने के लिए दो दिन में 21 लाख लोग आ चुके हैं। रविवार को 10 लाख से ज्यादा की भीड़ आने का दावा किया जा रहा है। बता दें कि कोलकाता में दुर्गा पूजा जोरशोर से होती है। बॉलीवुड एक्टर अमिताभ बच्चन ने भी दुर्गा की इसी प्रतिमा का फोटो ट्वीट किया है।

आखिर क्‍यों आई थी इतनी भीड़
इस साल साउथ कोलकाता के इस पंडाल ने सबसे ऊंची प्रतिमा बनाने का दावा किया है। इसे दुनिया में देवी की सबसे ऊंची प्रतिमा बताया जा रहा है। यह भी कहा जा रहा है कि प्रतिमा पूरी तरह सीमेंट से बनी हुई है। इन्हीं खूबियों के चलते प्रतिमा के दर्शन के लिए इस साल यहां सबसे ज्यादा भीड़ आ रही है। प्रतिमा देखने के लिए रविवार को पंडाल में इतने ज्यादा श्रद्धालु आ गए कि कोलकाता पुलिस के कमिश्नर सुरजीत कर पुरकायस्थ और अफसरों की गाड़ी भी वहां तक नहीं पहुंच पाई। पुलिस अफसरों को मेट्रो पकड़ कर पंडाल तक जाना पड़ा। भगदड़ के बाद दर्शन रोक दिए गए हैं।

पुलिस ने क्या कहा?
पुलिस कमिश्नर ने कहा, ”प्रतिमा देखने के लिए भारी भीड़ हो रही है। पूजा आयोजकों ने इतनी भीड़ को लेकर कोई व्यवस्था नहीं की थी। इसके कारण दिक्कत हो रही है।” इस बीच, पूजा आयोजकों ने लापरवाही और पहले से इंतजाम न करने के आरोपों से इनकार किया है। आयोजकों का कहना है कि जैसा पुलिस और ऑथरिटिज ने कहा था उसी के मुताबिक, भीड़ को काबू करने के लिए व्यवस्था की गई थी। इस प्रतिमा को देखने के लिए लोगों की भीड़ इतनी उमड़ी कि न केवल सड़कों पर लंबा ट्रैफिक जाम लगा, बल्कि कालीघाट स्टेशन से मेट्रो सर्विस पर भी असर पड़ा। इस लाइन पर 10 मिनट तक मेट्रो सर्विस बंद करनी पड़ी थी।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button