कोरोना से ज्यादा अन्य बीमारियां भी हैं लोगों के लिए परेशानी का सबब

 कोरोना को लेकर सतर्कता आवश्यक है, सजगता जरूरी है लेकिन, भयभीत होने की आवश्यकता नहीं है। शारीरिक दूरी, मास्क लगाने व सैनिटाइजर का उपयोग करने के साथ ही रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर काफी हद तक कोरोना के खतरे को टाल सकते हैं। आंकड़े गवाह है कि जिले में तीन माह के भीतर कोरोना से पांच लोगों की मौत हुई है। यह कोरोना के साथ ही सांस फूलने, हृदय रोग व अन्य बीमारियों से ग्रसित थे। इससे इतर जिला अस्पताल में खून की कमी, हृदय रोग, डायबिटीज,किडनी, हाइपर टेंशन सहित अन्य बीमारियों के कारण 245 मौतें तीन महीने में हुई हैं। ऐसे में कोरोना को लेकर डरने के बजाय सतर्कता बरतें। कोरोना से अब तक 123 लोग स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं।

जिला अस्पताल के इमरजेंसी मेडिकल ऑफीसर डॉ. शोएब इकबाल का कहना है कि कोरोना को लेकर लापरवाह नहीं होना है, लेकिन भयभीत भी होने की जरूरत नहीं है। अन्य बीमारियों की अपेक्षा कोरोना से मौतों की संख्या काफी कम है। जिला अस्पताल में इस अवधि में सबसे ज्यादा मौतें खून की कमी वाले मरीजों की हुई हैं।

परेशान न हों, सजग रहें

– कोरोना को लेकर सजग रहें। रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करें। जीवनशैली को बेहतर बनाएं। कोरोना से बचाव के लिए सरकार के निर्देशों का पालन करें। इससे परेशान होने की आवश्यकता नहीं है।

– डॉ. अरुण लाल, प्रमुख अधीक्षक जिला अस्पताल

जिला अस्पताल के आंकड़ों पर एक नजर

अप्रैल

कुल भर्ती-918

कुल मौतें- 80

मई

कुल भर्ती- 982

कुल मौतें- 90

जून

कुल भर्ती- 1050

कुल मौतें- 75 अब तक कोरोना से कुल मौतें: 05

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button