कॉर्बेट में ड्रोन उड़ाकर रिकार्डिंग करने पर कानपुर IIT के प्रोफेसर और चार छात्रों को वन विभाग ने पकड़ा

नैनीताल: कॉर्बेट के भीतर ड्रोन उड़ाकर रिकार्डिंग कर रहे कानपुर आईआईटी के प्रोफेसर व उनके चार छात्रों को वन विभाग ने पकड़ लिया। इस दौरान उनका ड्रोन जंगल में कंट्रोल से बाहर होकर गिर गया। इसे कॉर्बेट कर्मियों ने सुबह ढूंढा।

आईआईटी कानपुर में अर्थसाइंस विभाग के प्रोफेसर जावेद एन मलिक अपने चार छात्र स्नेहा,इसान, अजहर व निधि के साथ रामनगर आए थे। वह मंगलवार शाम को कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के बिजरानी रेंज के फुलताल कोटद्वार रोड ब्लॉक में ड्रोन उड़ाकर जंगल की रिकार्डिंग कर रहे थे।

सूचना पर कॉर्बेट की टीम मौके पर पहुंची तो ड्रोन उड़ा रहे लोगो को रोका। इसी बीच ड्रोन कंट्रोल से बाहर होकर झाड़ी में कहीं गिर गया। टीम ने ड्रोन का कंट्रोलर, एक मोबाइल फोन, यूएसबी को कब्जे में ले लिया। शाम को कर्मचारियों ने ड्रोन को तलाशा, लेकिन ड्रोन नहीं मिला।

बुधवार सुबह वनकर्मी फिर मौके पर पहुंचे और ड्रोन को ढूंढ लिया। ड्रोन झाड़ी में पड़ा मिला। ड्रोन व अन्य उपकरण सील कर दिए गए। प्रोफेसर ने बताया कि वह हिमालयी क्षेत्र में भूकंप को लेकर वे मेपिंग कर रहे हैं। कॉर्बेट के बिजरानी रेंजर राजकुमार ने बताया कि कॉर्बेट में बिना अनुमति घुसने और ड्रोन उड़ाने की अनुमति नही थी। प्रोफेसर के खिलाफ वन्य जीव सरंक्षण की धारा व बिना अनुमति जंगल मे प्रवेश करने की धारा में केस काटा गया है। अधिकारियों के निर्देश के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

Loading...

Check Also

तबाही रोकने के लिए अब विमान की मदद से लिए जाएंगे बादलों के नमूने

तबाही रोकने के लिए अब विमान की मदद से लिए जाएंगे बादलों के नमूने

कहां और क्यों फटते हैं बादल? मानवीय गतिविधि बादल फटने की घटनाओं को किस प्रकार …

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com