केरल के CM ने कहा हम क्या खाएं, यह दिल्ली या नागपुर को बताने की कोई ज़रूरत नही

दो दिन पूर्व पर्यावरण मंत्रालय द्वारा देशभर में मांस कारोबार के लिए मवेशियों की हत्या और इसी उदेश्य से उनकी बिक्री पर रोक लगाने के आदेश के बाद विरोध के स्वर तीखे होते जा रहे हैं. इस मामले में केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन ने भी अपना आक्रोश व्यक्त कर कहा कि हम क्या खाएं यह दिल्ली – नागपुर न बताएं.

केरल के CM ने कहा हम क्या खाएं, यह दिल्ली या नागपुर को बताने की कोई ज़रूरत नही

उल्लेखनीय है कि केरल के सीएम पी विजयन ने कहा कि हम क्‍या खाएं क्या नहीं, ये दिल्ली या नागपुर से जानने की जरूरत नहीं है. राज्य सरकार राज्य की जनता को उनकी पसंद का हर खाना और सुविधाएं देगी. बता दें कि नागपुर से उनका इशारा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से है, जिसका मुख्यालय नागपुर में ही है.

ये भी पढ़े: आजम खान ने लड़कियों को रेप और छेड़खानी से बचने के लिए दी ‘अजीबो-गरीब’ सलाह

केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने रविवार को प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर केंद्र के इस निर्णय का विरोध किया था. वहीं स्थानीय प्रशासन मंत्री केटी जलील  ने केंद्र के पशु वध आदेश से निजात पाने के लिए सरकार नया कानून लाने की बात कही. विपक्षी कांग्रेस नीत यूडीएफ द्वारा प्रतिबंध के खिलाफ सोमवार को केरल में ‘काला दिवस’ मनाया जाएगा.

ये भी पढ़े: पहली बार एक साथ रैली कर सकते हैं अखिलेश और मायावती

एक अन्य घटनाक्रम में पुलिस ने युवक कांग्रेस के कार्यकर्ता रिजिल मुकुलटी और उसके सहयोगियों के खिलाफ शनिवार को कन्नूर में खुलेआम जानवर काटने को लेकर मामला दर्ज कर लिया. वहीं दूसरी ओर कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने केरल में सार्वजनिक तौर पर यूथ कांग्रेस सदस्यों द्वारा कथित रूप से जानवर की हत्या की निंदा कर .एक ट्वीट के जरिये कहा कि ‘केरल में जो हुआ वह विचारहीन और नृशंस है. मुझे और कांग्रेस पार्टी दोनों को यह पूर्णत: अस्वीकार्य है. इस घटना की कड़ी निंदा करता हूं.

Loading...
loading...
error: Copy is not permitted !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com