गृहमंत्री ने 5 सीमांत मुख्यमंत्रियों के साथ की सुरक्षा समीक्षा बैठक…

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को चीन की सीमा से सटे पांच राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ पहली सुरक्षा समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की. केंद्रीय गृह मंत्री ने सीमांत इलाकों में संपर्क के मुद्दे को उठाया और इस चुनौती से निपटने की जरूरत पर जोर दिया. बैठक में मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती (जम्मू एवं कश्मीर), वीरभद्र सिंह (हिमाचल प्रदेश), त्रिवेंद्र सिंह रावत (उत्तराखंड), पवन कुमार चामलिंग (सिक्किम) और पेमा खांडू (अरुणाचल प्रदेश) ने हिस्सा लिया.

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मुख्यमंत्रियों के साथ की बैठक

गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि बैठक का लक्ष्य समस्त सीमा सुरक्षा के लिए मंत्रालय और पांचों राज्यों के बीच समन्वय को मजबूत करना है. गौरतलब है कि गृह मंत्री शुक्रवार से सिक्किम के तीन दिवसीय दौरे पर हैं. अधिकारी ने कहा कि बैठक में गृह मंत्रालय द्वारा किए गए सीमा के बुनियादी ढांचे से जुड़े कार्य, सीमा क्षेत्र विकास कार्यक्रम और राज्यों तथा भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के बीच समन्वय के मुद्दों पर चर्चा की गई.

गृह मंत्रालय के अधिकारी ने कहा कि पहले स्तर के तहत गृह मंत्रालय सीमा के निकट 27 सड़कों का निर्माण कर रहा है, जो साल 2019-20 में पूरा हो जाएगा. उन्होंने कहा, “48 अन्य सड़कों के निर्माण को मंजूरी दी जा रही है.” गृहमंत्री ने जनसंख्या कम होने तथा सीमा से लोगों के आने के मद्देनजर, सीमाई इलाकों में बुनियादी ढांचा सुविधाओं की जरूरत पर भी जोर दिया. गृह मंत्री ने सीमांत जिलों में मॉडल गांवों के विकास की वकालत की और राज्यों से इस संबंध में केंद्र को और प्रस्ताव भेजने को कहा.

उन्होंने कहा, “केंद्र सरकार सीमांत जिलों में मॉडल गांवों के समेकित विकास पर अपना ध्यान केंद्रित कर रही है. पिछले साल इस तरह के 41 गांवों के लिए कोष जारी किए गए.” उन्होंने कहा कि राज्यों को सीमांत इलाकों के विकास में आने वाली बाधाओं को दूर करना चाहिए और भूमि अधिग्रहण तथा मंजूरी से संबंधित समस्याओं को सुलझाने की पहल करनी चाहिए. उन्होंने मुख्यमंत्रियों को सलाह दी कि सीमांत इलाकों के गांवों में किए जा रहे विकास कार्यो की समीक्षा और क्रियान्वयन के लिए वे अपने वरिष्ठ अधिकारियों को हर छह महीने पर सीमांत इलाकों में भेजें.

यह भी पढ़ें:  अमित शाह: 10 सदस्यों से शुरु हुई थी भाजपा, आज दुनिया की सबसे बड़ी…

दिन में इससे पहले गृह मंत्री ने नाथुला दर्रा तथा लाचुंग में आईटीबीपी की एक चौकी का दौरा किया, जहां उन्होंने चीन-भारत सीमा पर तैनात जवानों से मुलाकात की. उन्होंने आईटीबीपी के कर्मियों की प्रशंसा की और सीमा पर गश्त करने के दौरान पूर्ण चौकस रहने की गुजारिश की.

Loading...
loading...
error: Copy is not permitted !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com