काशी की तर्ज पर बांदा में होगी ‘केन आरती’, की जा रही है घाटों की साज-सज्जा

उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में काशी की तर्ज पर प्रत्येक मंगलवार की शाम पांच बजे केन नदी की पूजा और आरती की जाएगी. जिलाधिकारी हीरालाल ने आदेश जारी करते हुए शुक्रवार को केन घाट में अंतिम चरण की तैयारियों का जायजा लिया. इसके लिए घाट पर सीढ़ियों और रैंप का निर्माण कर लिया गया है. शुक्रवार सुबह 11 बजे जिलाधिकारी हीरालाल सरकारी अमले के साथ केन नदी के घाट में बने आरती स्थल पहुंचे.

जिलाधिकारी ने वहां मौजूद अफसरों से कहा, “पत्थरों को रंगवा कर नावों को सलीके से सजाया जाए, जिससे यह जगह और सुंदर भी लगे. मैं चाहता हूं कि जो आज के लोग नल के पानी तक सीमित रह गए हैं, उनकी आने वाली पीढ़ियां नदियों का भी सम्मान करें.”

इससे पहले, जिलाधिकारी ने सभी मातहत अधिकारियों को केन नदी के घाट पर जल-आरती के आयोजन में प्रतिभाग विषयक परिपत्र जारी करते हुए लिखा है कि ‘केन नदी के घाट पर (भूरागढ़ रोड) पर 26 नवंबर से हर मंगलवार शाम पांच बजे जल आरती किया जाना प्रस्तावित है.’

उन्होंने लिखा कि ‘इसे नियमित तौर पर प्रत्येक मंगलवार को संचालित करवाया जाना है, इसलिए समस्त तैयारियां समय से पूरी कर ली जाएं.’

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button