कांग्रेस पार्टी के पूर्व केंद्रीय मंत्री सुखराम ने की कांग्रेस में वापसी

नई दिल्ली। चुनावी हलचल में आज केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, कांग्रेस नेता राज बब्बर, जनरल वीके सिंह, हेमा मालिनी समेत कई बड़े चेहरे पर्चा दाखिल करेंगे बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 के पहले चरण के मतदान के लिए आज नामांकन का आखिरी दिन आज है. दल लगातार अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर रहे हैं और चुनाव प्रचार भी जोरों पर है. पूर्व संचार मंत्री और हिमाचल प्रदेश के बड़े नेता सुखराम की घर वापसी हुई है राजनीतिक. सुखराम ने एक बार फिर कांग्रेस पार्टी ज्वाइन कर ली है। आपको बता दें कि वह सुखराम ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में ही की है वापसी ।
सूत्रों के अनुसार सुखराम के बेटे अनिल शर्मा अभी हिमाचल प्रदेश की भाजपा सरकार में मंत्री हैं बताया जा रहा है कि लोकसभा चुनावों से ठीक पहले सुखराम परिवार ने फिर रंग बदल दिया है साथ ही पूर्व केंद्रीय मंत्री पंडित सुखराम पोते आश्रय शर्मा सहित कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। पूर्व केंद्रीय संचार मंत्री सुखराम और उनके पोते आश्रय ने आज दिल्ली में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली है ।
ये भी पढ़ें: ये है हरियाणा की स्टार डांसर सपना चौधरी की जिंदगी के रहस्य 
जानकारी के अनुसार आश्रय मंडी ने संसदीय सीट से कांग्रेस की टिकट फाइनल हो गया है बस औपचारिक एलान होना बाकी है सीएम जयराम ठाकुर की प्रतिष्ठा का सवाल बने मंडी संसदीय क्षेत्र से मौजूदा सांसद रामस्वरूप को टिकट मिलने के बाद लोकसभा चुनावों से ठीक पहले सुखराम परिवार ने फिर रंग बदला है। 2017 में विधानसभा चुनावों से पहले कांग्रेस छोड़कर दल बदल कर भाजपा में उर्जा मंत्री बने अनिल शर्मा ने लोकसभा चुनावों में अपनी ही पार्टी का प्रचार करने से हाथ खड़े कर दिए हैं और परिवार के लिए जयराम सरकार में अपना मंत्री पद भी दांव पर लगा दिया है।
आपको बता दें कि सोमवार सुबह मंडी में सीएम जयराम ठाकुर से मुलाकात कर अनिल शर्मा ने कहा कि उनका बेटा आश्रय कांग्रेस ज्वाइन कर रहा है। कांग्रेस की तरफ से उसे टिकट का ऑफर है। खुद को धर्म संकट में बताते हुए उन्होंने भाजपा से प्रचार करने के लिए मना कर दिया। अनिल शर्मा ने कहा कि वह अपने पिता पंडित सुखराम और बेटे आश्रय के खिलाफ नहीं जा सकते जबकि कांग्रेस के लिए भी वह प्रचार नहीं करेंगे। सीएम जयराम ने कहा कि अनिल शर्मा जो निर्णय करना चाहते हैं वो ले लें।
ये भी पढ़ें: यर इंडिया ने बोर्डिंग पास पर पीएम मोदी की तस्वीर, आलोचना शुरू
सूत्रों के मुताबिक पार्टी का कहना है कि जो पार्टी में थे ही नहीं उनके जाने से क्या होगा। सीएम ने कहा कि वे पंडित सुखराम को सम्मान देते रहे हैं पहले भी सम्मान देते थे, और अब भी देते हैं। जानकारी के अनुसार 11 अप्रैल को होने वाले पहले चरण के मतदान में 20 राज्यों की कुल 91 सीटों पर वोट डाले जाएंगे।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button