कहीं भी दिखे किन्नर तो तुरंत बोले ये 2 शब्द, तुरंत बदल जाएगी आपकी किस्मत

जैसा की हम सभी जानते है की हमारा भारत देश विभिन्न संस्कृति और परम्पराओ से परिपूर्ण एक ऐसा देश है जहाँ भिन्न भिन्न जाति और धर्म के लोग रहते है। भारत देश को त्योहारों का देश भी कहा जाता है जहाँ हर छोटा बड़ा त्यौहार बड़े ही धूम धाम से मनाया जाता है इसके साथ ही किसी भी उत्सव के मौके पर दान देने की परम्परा भी है। हमारे घर में जब भी कोई त्यौहार नजदीक आता हैं तो तरह तरह के लोग दक्षिणा मांगने के लिए आ जाते हैं। लेकिन इनमे से एक वर्ग ऐसा भी है जो इन त्योहारों या किसी भी हर्ष उल्लास के मौके पर सबसे पर सबसे ज्यादा सक्रिय रहते है।

हमारे समाज का ताना-बाना मर्द और औरत से मिलकर बना है। लेकिन एक तीसरा जेंडर भी हमारे समाज का हिस्सा है। इसकी पहचान कुछ ऐसी है जिसे सभ्य समाज में अच्छी नज़र से नहीं देखा जाता। समाज के इस वर्ग को थर्ड जेंडर, किन्नर या हिजड़े के नाम से जाना जाता है। हिन्दुस्तान ही नहीं, पूरे दक्षिण एशिया में इनके दिल की बात और आवाज़ कोई सुनना नहीं चाहता क्योंकि पूरे समाज के लिए इन्हें एक बदनुमा दाग़ समझा जाता है। लोगों के लिए ये सिर्फ़ हंसी के पात्र हैं।

किन्नर समुदाय शुरू से ही मानव समाज का एक अंग रहा है। रामायण और महाभारत में भी किन्नरों का उल्लेख मिलता है। किन्नरों को शिव का अर्द्धनारीश्वर रूप माना गया है, जिसमें एक स्त्री तथा पुरुष-दोनों के गुण विद्यमान होते हैं। फिर क्यों शिव को उनके अर्द्धनारीश्वर स्वरूप में भगवान मानकर पूजा जाता है, जबकि किन्नरों को एक आम इनसान का दर्ज़ा और अधिकार पाने के लिए इतना संघर्ष करना पड़ रहा है। समाज की इस उपेक्षा का ही नतीजा है कि अल्पसंख्यकों की तरह किन्नर समुदाय भी आम समाज से हमेशा खुद को अलग-थलग मान कर जीता रहा है लेकिन यदि आपके घर में कोई ख़ुशी का मौका है या फिर कोई तिथि त्यौहार होता है तो उस समय ये किन्नर वर्ग आपके खुशियों में जरुर शामिल होने के लिए एके घर में आ जाते है या तो किन्नरों को त्योहारों से लेकर शादी, मुंडन जैसे शुभ कार्यों में प्यार से बुलाया जाता है। किन्नरों को शुभ काम में जरूर बुलाया जाता है क्योंकि उन्हें शुभ माना जाता है।

आजादी के 71 वर्ष पूरे होने पर पतांजलि ने दिया राष्ट्रवासियों को धमाकेदार उपहार : 50 रुपये के कार्ड पर पायें 5 लाख तक की सहयोग राशि और बहुत कुछ

किन्नर वर्ग के लोगो की ये आदत होती है की ये जब भी ये किसी भी खास मौके पर आपके घर आते है तो खूब सारा गाना बजाना करते है और पैसों घनो की भी डिमांड करते है और बिना लिए ये वापस भी नहीं जाते वहीँ जिनके घर खुशियाँ मनाई जा रही होती है ये लोग भी इन्हें पैसा देने में आना कानी नहीं करते है बल्कि लोग ख़ुशी ख़ुशी इन्हें पैसा दे देते हैं जिसके बाद वो खुश हो जाती हैं और खूब सारी दुआएं भी देती है ऐसा माना जाता हैं कि किन्नर के मुंह से निकली दुआएं बहुत लाभकारी होती हैं। इन दुआओं का फल बहुत जल्दी देखने को मिलता हैं।

वहीँ बात की जाए किन्नरों के द्वारा दी जाने वाली बद्दुआओं की तो अगर किन्नर किसी को बद्दुआएं दे देते है तो इंसान की जिंदगी बर्बाद भी हो सकती है। किन्नर जब आपसे पैसे मांगते है तब आप उन्हें चुपचाप पैसे देकर रवाना कर देते होंगे और उनसे ज्यादा बहस नहीं करते होंगे, लेकिन आपको बता दें कि अगर आप किन्नर को पैसे देने के बाद ये 2 जादुई शब्द बोलते है तो आपको करोड़ों का फायदा होगा।

आज हम आपको किन्नरों की दुआएं पाने के लिए ऐसे दो शब्द बताने वाले है जिन्हें किन्नरों से बोलने मात्र से आपकी सभी मनोकामना शीघ्र ही पूरी होती है और आपका जीवन खुशियों से भर जाता है

कहा जाता है कि ये 2 जादुई शब्द बोलने से आपकी सम्पति में बढ़ोतरी होने लगेगी और आपको दुगना धन लाभ होगा। तो चलिए आप भी जान लीजिये उन 2 जादुई शब्दों के बारे में।किन्नरों को पैसे देने के बाद जरुर बोले ये 2 जादुई शब्द- जब किन्नर आपसे आपके घर, ऑफिस या दुकान में पैसे मांगने आए तो आप उसको पैसे देने के बाद जरुर बोले ”और आइएगा” आपको शायद ये शब्द बहुत आम लग रहे होंगे, लेकिन क्या आपने आज से पहले ये शब्द किसी किन्नर को बोले भी है या नहीं?

 

Loading...

Check Also

सेक्स के दौरान टूटा बेड, जमीन पर गिरने से महिला के साथ हुआ कुछ ऐसा सुनकर हो जाएगे पागल…

इंग्लैंड के बर्कशायर शहर में उस समय एक कपल को अजीब स्थिति का समाना करना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com