भारत की वो बदनाम गलियाँ जहां औरतों का नहीं बल्कि मर्दों का होता है देह व्यापार…

- in 18+

आज तक आपने कई ऐसे रेड लाइट एरिया के बारे में सुना होगा जहाँ औरतों के शरीर की बोली लगती है, और खरीदार होते हैं मर्द, लेकिन आज हम आपको एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं जहाँ औरतों की नहीं बल्कि मर्दों की मंडी लगती है, जाहिर सी बात है मर्दों की मंडी है तो खरीददार औरते ही होंगी| भारत के इस देश में रात होते ही मर्दों के बाजार सज जाते हैं और यहाँ खरीदार होती हैं हाई प्रोफाइल महिलाएं। औरतों का नहीं बल्कि मर्दों का होता है देह व्यापार

सुनकर आपको भी अचम्भा होगा लेकिन अब तो भारत में भी कई जगह इस तरह के काम होते हैं| शारीरिक भूख को मिटाने के लिये राजधानी दिल्ली के कई पॉश इलाकों में मर्दों की ऐसी मंडियां सजती हैं, जहां लड़कों की बोली लगाई जाती है| इन मंडियों को जिगोलो मार्केट के नाम से जाना जाता है और पैसों के लिए अपना जिस्म बेचने वाले इन मर्दों को ‘जिगोलो’ यानी मेल एस्कॉट या फिर कॉल ब्‍वॉयज कहा जाता है|

एक वेबसाइट के मुताबिक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मर्दो के जिस्म का यह कारोबार तेजी से पनप रहा है। यह कारोबार रात में 10 बजे के बाद शुरू होता है और सुबह 4 बजे तक चलता है। दिल्ली के सरोजनी नगर, लाजपत नगर, पालिका मार्केट और कमला नगर मार्केट समेत कई इलाकों में रात होते ही मर्दों की जिस्मफरोशी के धंधे की मार्केट सज जाती है। दिल्ली के इस मार्केट में एलीट क्लास से संबंध रखने वाली महिलाएं मर्दों की बोली लगाती है।

यह बी पढ़े: जवान मर्दों के लिए तरसती हैं यहां की कुंवारी औरतें लेकिन फिर भी कर लेती है ये काम…

1800 से 3000 रूपए में पूरी रात के लिए बुक होते हैं लड़के 

जिस्म के खरीददारों की यह पॉश इलाकों की सड़कों और गलियों तक ही नहीं सीमित है। इनके लिए पब, डिस्को और कॉफी हाउस भी ऑप्शन है। जिगोलो को बुक करने का काम हाईफाई क्लब, पब और कॉफी हाउस में भी होता है। कुछ घंटों के लिए जिगोलो की बुकिंग की कीमत 1800 से 3000 रुपए और फुल नाइट के लिए 8000 रुपए तक में डील होती है। यहीं नहीं गठीले और सिक्स पैक्स वाले ऐब्स वालों मर्दों की कीमत 15000 तक होती है।

इंजीनियरिंग और मेडिकल के स्टूडेंट सबसे ज्यादा 

यहां डीलिंग का काम पूरी तरह से सिस्टमैटिक होता है। कमाई का 20 प्रतिशत हिस्सा बिकने वाले मर्द को अपनी संस्था को देना होता है, जिससे वो जुड़ा हुआ होता है। यहीं भी वेश्यावृत्ति वाली कहानी है, कुछ पुरुषों ने इसे अपना प्रोफेशन बना लिया तो कुछ मजबूरी में इस दलदल में फंसे हैं। जानकारी के मुताबिक इसमें इंजीनियरिंग और मेडिकल की तैयारी करने वाले स्टूडेंट सबसे ज्यादा है।

You may also like

पार्टनर को लाना है करीब तो अपनाएं ये आसान टिप्स

रिश्ते बहुत नाजुक होते हैं। कई बार हम