अभी अभी: एयरटेल के मित्तल ने कर डाला ये बड़ा ऐलान, अंबानी हुए बेहद परेशान

भारत की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी भारती एयरटेल इंडस्ट्री में बढ़ती स्पर्धा को देखते हुए टेलिनॉर इंडिया को खरीदने संबंधित अग्रीमेंट साइन कर लिए हैं। दोनों कंपनियों के विलय को अब रेग्युलेटरी मंजूरी का इंतजार है।

अभी-अभी: नासा ने रचा इतिहास, वैज्ञानिकों ने खोजे पृथ्‍वी जैसे सात नए ग्रह

अग्रीमेंट के अनुसार एयरटेल और टेलिनॉर इंडिया में विलय होगा और एयरटेल मंजूरियों के मिलते ही टेलिनॉर को टेक ओवर कर लेगा। दोनों कंपनियों ने संयुक्त बयान जारी करते हुए कहा, ‘इस अधिग्रहण से कोई नुकसान नहीं होना है। 2016 की चौथी तिमाही में टेलिनॉर की कुल वैल्यू NOK 0.3 बिलियन थी। अग्रीमेंट के अनुसार एयरटेल टेलिनॉर की स्पैक्ट्रम पेमेंट और दूसरे कॉन्ट्रैक्ट्स का अपने हाथ मे ले लेगा।’
इसके साथ ही देश के 7 सर्किल्स- आंध्र प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र, गुजरात, यूपी (ईस्ट), यूपी (वेस्ट) और असम में ऑपरेशनल टेलिनॉर इंडिया का अधिग्रहण एयरटेल कर लेगा। खास बात यह है कि इन सर्किल्स में आबादी काफी ज्यादा है और ग्रोथ की संभावनाओं का खारिज नहीं किया जा सकता।
संयुक्त बयान के अनुसार, एयरटेल टेलिनॉर के ग्राहकों को क्वलिटी सर्विस के साथ-साथ अन्य सभी सुविधाएं मुहैया कराएगा। ट्रांजैक्शन्स के पूरे न होने तक टेलिनॉर के ऑपरेशन्स और सर्विसेज जारी रहेंगी। भारती एयरटेल के मैनेजिंग एडिटर गोपाल विट्टल ने कहा, ‘प्रस्तावित अधिग्रहण के बाद कंपनी को मजबूती मिलेगी और कई सर्किल्स में हमारा मार्केट भी मजबूत होगा।’
टेलिनॉर के सीईओ ने कहा, ‘हमें लगता है कि आज का अग्रीमेंट ग्राहकों, कर्मचारियों की बेहतरी के लिए है। हमारे भारतीय बिजनस का पटरी पर लाना हमेशा से हमारा मकसद रहा है और एयरटेल के साथ मिलने से हमें खुशी है।’
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button