एक और बैंक घोटाले का हुआ बड़ा खुलासा: कनिष्क ज्वैलर्स ने लगाई 14 बैंकों को 854 करोड़ की चपत

- in कारोबार

देश में बैंक से जुड़े बड़े घोटाले खत्म होने का नाम नहीं ले रहे. पीएनबी बैंक घोटाले के बाद देश में एक और बैंक बड़ा सामने आया है. इस बार घोटाले की मुख्य शिकार भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) बनी है.

पीएनबी में नीरव मोदी और मेहुल चोकसी की ओर से किए गए 14,600 करोड़ रुपए के घोटाले का शोर अभी थमा भी नहीं था कि एक और घोटाला आ गया. देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने सीबीआई को भेजे शिकायत में इस घोटाले का जिक्र किया है.

एसबीआई की शिकायत है कि कनिष्क ज्वैलर्स ने 854 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी की है. एसबीआई ने कनिष्क गोल्ड प्राइवेट लिमिटेड के खिलाफ सीबीआई से जांच की मांग करते हुए कहा कि इस कंपनी ने कर्ज मामले में 842.15 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी की है.

इंडिया टुडे के पास एसबीआई का यह शिकायती पत्र मौजूद है. हालांकि सीबीआई ने इस पर कोई एफआईआर दर्ज नहीं कराई है.

सीबीआई उन 14 सरकारी और निजी बैंकों में शामिल अहम बैंक हैं जिसने इस कंपनी को 824 करोड़ रुपए का प्रिंसिपल लोन दिया.

एसबीआई की ओर से लिखे पत्र के अनुसार, कनिष्क गोल्ड ने 2007 से कर्ज लेना शुरू किया, और बाद में उसने अपनी क्रेडिट की सीमा बढ़वा लिया.

You may also like

बड़ी खुशखबरी: देश के 3 बड़े बैंकों के विलय से ग्राहकों को मिलेंगे ये फायदे

बैंक ऑफ बड़ौदा, विजया बैंक और देना बैंक