एके 47 और हैंडग्रेनेड बरामदगी मामले में जहां कोर्ट ने बाहुबली MLA अनंत सिंह के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट किया जारी

घर से एके 47 और हैंडग्रेनेड बरामदगी मामले में जहां कोर्ट ने बाहुबली विधायक  अनंत सिंह के खिलाफ गिरफ्तारी का वारंट जारी किया है, वहीं  अनंत सिंह के सहयोगी लल्लू मुखिया की गिरफ्तारी के लिए जा रही पुलिस टीम पर उसके गुर्गों ने जमकर पथराव किया। घटना में एएसपी लिपि सिंह बाल-बाल बच गईं।
बता दें कि मोकामा पुलिस ने लल्लू मुखिया के भाई रणवीर यादव को हिरासत में ले लिया है। उससे पूछताछ के दौरान मिले सुराग के आधार पर पुलिस लल्लू मुखिया को गिरफ्तार करने जा रही थी। इसी दौरान अनंत सिंह के समर्थकों व मुखिया के सहयोगियों ने मोकामा थाना क्षेत्र में पुलिस गाड़ी पर पथराव कर दिया। हमले में कई पुलिसकर्मी जख्मी हो गए।
जानकारी अनुसार अनंत सिंह के समर्थकों द्वारा पुलिस की गाड़ी का पंडारक थाना क्षेत्र से ही पीछा किया जा रहा था। करीब आठ गाड़ियां और दर्जनों बाइकर्स पुलिस की गाड़ी का पीछा कर रहे थे। इसके बाद मोकामा में एक सुनसान जगह पर पुलिस की गाड़ियों को रोक कर जवानों के साथ हाथापाई भी की गई। इस दौरान अनंत सिंह के गुर्गे रणवीर यादव को छुड़ाने की कोशिश भी की गई।
बता दें कि रणवीर यादव और लल्लू मुखिया के खिलाफ पुलिस कुर्की जब्ती की कार्रवाई करने पहुंची थी। इसी दौरान रणवीर यादव ने सरेंडर कर दिया था। पुलिस ने उससे पंडारक थाना में पूछताछ की और पूछताछ में मिले सुराग के आधार पर उसे लेकर छापामारी करने के लिए लखीसराय की ओर जा रही थी। इसी दौरान मुखिया के सहयोगियों ने पुलिसकर्मियों पर पथराव कर दिया।
कोर्ट ने जारी किया गिरफ्तारी वारंट
एके-47 और ग्रेनेड की बरामदगी मामले में मोकामा विधायक अनंत सिंह के खिलाफ मंगलवार को बाढ़ कोर्ट ने गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया।  इधर, पंडारक पुलिस को अनंत के करीबी लल्लू मुखिया और उसके भाई रणवीर के घर की कुर्की जब्ती करने का आदेश भी कोर्ट से मिल गया था।
अनंत सिंह के गुर्गों के घर की हो रही थी कुर्की जब्ती
देर शाम पुलिस लल्लू के घर कुर्की करने पहुंची जिसके तुरंत बाद उसके भाई रणवीर ने सरेंडर कर दिया। रात साढ़े दस बजे पुलिस रणवीर को बाढ़ थाने से लेकर मोकामा जा रही थी। इसी बीच मोकामा थाना चौक के पास रणवीर के गुर्गों ने उसे छुड़ाने के लिए पुलिस दल पर हमला कर दिया। पुलिस की गाड़ी में बैठे रणवीर का हाथ खींचकर बदमाश उसे अपनी गाड़ी में बैठाने लगे।
पुलिस का हथियार छीनने की कोशिश की
उन्होंने पुलिस के हथियार भी छीनने की कोशिश की लेकिन पुलिस को आक्रामक देख लल्लू के गुर्गे एक सिपाही के पैर पर गाड़ी चढ़ाते हुए भाग निकले। इस दौरान आधा दर्जन पुलिस वाले जख्मी हो गए। इसके बाद बाढ़ एएसपी लिपि सिंह भी वहां पहुंच गईं। देर रात पुलिस ने रणवीर को गुप्त स्थान पर रख दिया।
पुलिस ने भी की अनंत के समर्थकों पर जवाबी कार्रवाई
पुलिस की टीम पर किए गए इस पथराव में एएसपी लिपि सिंह बाल बाल बच गईं, पर कई गाड़ियों के शीशे टूटे और पुलिसकर्मी घायल हो गए। पुलिस ने पथराव के बाद शक के आधार पर 13 लोगों को हिरसात में लिया है।इस दौरान छह बाइक और छह गाड़ियां भी जब्त की गईं हैं।

Loading...
Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *