ऋषि कपूर ने सत्ता के लिए बयानबाजी की

नई दिल्ली : बुधवार को फिल्म अभिनेता ऋषि कपूर द्वारा उठाए गए सवालों के जवाब में कांग्रेस ने कहा है कि उन्हें इतिहास की जानकारी नहीं है और वो ये सबकुछ सत्ता के लालच में कर रहे है। दरअसल ऋषि कपूर ने इस बात पर आपत्ति जताई थी कि देश के सभी प्रतिष्ठित संस्थानों के नाम नेहरु-गांधी परिवार के नाम पर ही क्यों है।

इसके जवाब में कांग्रेसी नेता संजय निरुपम ने कहा कि उन्हें इतिहास समझने की जरुरत है। वो मौजूदा हुक्मरानों की नजदीकी हासिल करने के लिए गांधी परिवार को निशाना बना रहे है। एक ट्वीट में तो ऋषि कपूर ने वो अपने आपे से बाहर होते हुए कहा कि बाप का माल समझ रखा है क्या।

दरअसल ऋषि कपूर इस बात से नाराज है कि कई जगहों का नाम इंदिरा गांधी और राजीव गांधी के नाम पर रखा जा रहा है। एक ट्वीट में उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने एसेट्स का नाम गांधी फैमिली पर किया है, इसे बदला जाना चाहिए। बांद्रा/वर्ली सी-लिंक का नाम लता मंगेशकर या जेआरडी टाटा लिंक रोड किया जाना चाहिए।

बाप का माल समझ रखा था? अपने एक अन्य ट्वीट में ऋषि कपूर ने कहा कि दिल्ली में सड़कों के नाम बदले जा सकते है, तो फिर कांग्रेस के एसेट्स और प्रॉपर्टी के नाम क्यों नहीं बदले जा सकते है। चंडीगढ़ में भी राजीव गांधी के नाम पर एसेट्स? सोचो? क्यों?

हमें देश के खास जगहों के नाम उन लोगों के नाम पर रखने चाहिए, जिन्होंने सोसाइटी को कुछ दिया हो। हर चीज गांधी के नाम पर ही क्यों? मैं इससे सहमत नहीं हूं। लोगों को सोचना चाहिए। बता दें कि राज्य विदेश मंत्री नजरल वी के सिंह ने मंगलवार को नई दिल्ली के अकबर रोड का नाम बदलकर महाराण प्रताप रोड रखे जाने की सिफारिश की थी।

इस पर कांग्रेस के नेता मनीष तिवारी ने कहा कि अभिनेता के पास सार्वजनिक जीवन में निभाने के लिए अब कोई किरदार नहीं है। तिवारी ने कहा कि पिछली बार मैंने उन्हें फिल्म बॉबी में बोलते हुए सुना था। वो इस लायक नहीं कि उन पर बयान दिया जाए।

मुंबई में कांग्रेस के नेता संजय निरुपम ने कहा कि ऋषि को इतिहास जानने की जरूरत है, क्योंकि वह राष्ट्र के निर्माण में गांधी परिवार के योगदान को समझने में नाकाम हुए हैं। निरुपम ने कहा कि उन्होंने ऋषि को उन हवाईअड्डों की सूची भेजी है जो महाराणा प्रताप, शिवाजी महाराज और लाल बहादुर शास्त्री के नाम पर हैं।

निरुपम ने कहा कि कुछ लोग सत्ता पाने के लिए अपना मुंह खोलते है, ऐसे लोगों की सोच छोटी होती है। उन्होने कहा कि वो सत्ताधारी लोगों को खुश करना चाहते है। वे ऐसा करें, लेकिन कांग्रेस की कीमत पर नहीं। ऋषि की टिप्पणियों का समर्थन करते हुए अभिनेता अनुपम खेर ने सिनेमा, क्रिकेट और कला सहित अन्य क्षेत्रों के दिग्गजों को पहचानने की महत्ता पर जोर दिया।

इसके साथ ही उन्होंने वर्तमान में नरेंद्र मोदी की सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि उनकी योजना किसी भी राजनेता के नाम पर नहीं है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button