उत्तर प्रदेश में विदेशों से आए लोगों की पहचान के लिए चलेगा व्यापक अभियान

लखनऊ 25 मार्च।उत्तर प्रदेश सरकार ने हाल ही में विदेशों से आए लोगों की पहचान के लिए एक व्यापक अभियान चलाने का फैसला किया है और दस हजार से अधिक ग्राम प्रधानों से ऐसे लोगों को अलग थलग रखना सुनिश्चित करने को कहा है।
इस बीच, कोविड-19 के तीन नए मामले सामने आए हैं, जिनमें से एक पीलीभीत और दो गौतम बुद्ध नगर से हैं। इसके साथ ही राज्य में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ कर 38 हो गई है। इनमें से 11 लोगों की हालत में सुधार हुआ है और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है तथा बाकी 27 लोगों की स्थिति स्थिर है।
राज्य सरकार ने कोरोना बीमारी से लड़ने के लिए स्वास्थ विभाग को 50 करोड़ रुपये की अतिरिक्त मदद दी है और इसके साथ ही मजदूरी और जरूरतमंदों को पका हुआ भोजन मुहैया कराने जा रही है। सरकार सामुदायिक किचन शुरू करेगी और होटलों, धार्मिक संस्थाओं, फास्ट फूड चेन और मिड डे मील तैयार करने वालों की मदद से जरूरतमंद लोगों तक पैकेटबंद खाना पहुंचाएगी। लोगों तक जरूरी सामान पहुंचाने के लिए प्रदेश में इस समय 12 हजार से ज्यादा वाहनों की मदद ली जा रही है।
अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि पुलिस सख्ती से साथ लॉकडाउन का पालन करवा रही है और अब तक लॉक डाउन का उल्लंघन करने के लिए लगभग 40 हजार वाहनों का चालान जारी किया जा चुका है। इस बीच मुख्यमंत्री हेल्पलाइन सेवा 1076 की तरफ से प्रदेश के 10 हजार से ज्यादा ग्राम प्रधानों को फोन किया जा रहा है और उनसे ब्यूरो ऑफ इमीग्रेशन की तरह से मिली लिस्ट के आधार पर मिले विदेशी यात्रा करने वाले लोगों के बारे में जानकारी हासिल की जा रही है ताकि उन्हें घर पर ही अलग-थलग रखा जा सके।

Ujjawal Prabhat Android App Download Link
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button