एक क्लिक में पढ़ें – उत्तर प्रदेश की अब तक की बड़ी खबरें

प्रसव पीड़ित महिला को अस्पताल से भगाने वाली नर्स बर्खास्त

ब्हराइच। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र विशेश्वरगंज में प्रसव पीड़ा से तड़प रही महिला को अस्पताल से भगाने के बाद सड़क पर प्रसव से नवजात की मौत के मामले में केन्द्र पर तैनात नर्स को को बर्खास्त कर दिया गया है। जानकारी के अनुसार रविवार देर रात को गोंडा निवासी शेर मोहम्मद ने अपनी गर्भवती पत्नी मेहनाज को विशेश्वरगंज सीएचसी पर भर्ती कराया था। मेहनाज प्रसव पीड़ा से कराह रही थी। आरोप है कि अस्पताल में तैनात स्टाफ नर्स लता पांडेय ने आपरेशन से प्रसव की बात कहकर पांच हजार रूपये की मांग की। पैसे नहीं होने के कारण नर्स ने महिला को अस्पताल से बाहर भगा दिया। देर रात अस्पताल गेट के सामने सड़क पर प्रसव हो गया। नवजात की वहीं मौत हो गयी। ग्रामीणों ने एकत्र होकर हंगामा किया तो जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव ने मामले की जांच के आदेश दिए। डिप्टी सीएमओ के नेतृत्व में गठित जांच दल द्वारा की गयी जांच में स्टाफ नर्स की संवेदनहीनता, लापरवाही व धन मांगने की बात सामने आई है। स्टाफ नर्स की संविदा समाप्त कर उसे बर्खास्त कर दिया गया है।

पति की संदिग्ध मौत, पत्नी और बेटी के खिलाफ मामला दर्ज

प्रतापगढ़। जिले के थाना महेशगंज पुलिस ने गुजवर गाँव में संदिग्ध परिस्थितियों में हुई युवक की मौत के संबंध में पत्नी व् पुत्री सहित दो के विरुद्ध हत्या की रिपोर्ट दर्ज किया। जानकारी के अनुसार मुन्ना (40) का शव बीती रात संदिग्ध दशा में पाया गया था। शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय भेजा गया था। पोस्टमार्टम के बाद शव पहुँचने पर मृतक के बड़े भाई जमील अहमद की तहरीर पर मृतक की पत्नी सबीना बानो व पुत्री मंतसा सहित दो आरोपियों के विरुद्ध हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर घटना की जांच की जा रही है।

भारत बंद का ‘कोई मतलब नहीं’-योगी 

गोण्डा (ईएमएस)। एससी-एसटी कानून के विरोध में सवर्ण समुदायों के भारत बंद के आहवान पर प्रदेश में गुरूवार को आम जनजीवन लगभग सामान्य रहा। फिलहाल कही से किसी अप्रिय घटना का कोई समाचार नही मिला है। इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एससी-एसटी कानून के विरोध में बंद पर कहा कि भारत बंद का कोई मतलब नहीं है, लोगों की अपनी भावनाएं हैं, लोकतन्त्र में हर व्यक्ति को अपनी बात कहने का अधिकार है।

मुख्यमंत्री गुरुवार को जिले के उमरी बेगमगंज में बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री वितरित करने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी इस देश के प्रत्येक व्यक्ति की सुरक्षा, खुशहाली और समृद्धि के लिए प्रतिबद्ध हैं। हमने जाति एवं धर्म के आधार पर कभी राजनीति नहीं की। समाज के दबे कुचले लोगों को संरक्षण देने के लिए यह कानून बनाया गया है। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि इसका किसी भी तरह से दुरुपयोग न हो।

इससे पहले जनसभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने नाव पलटने, सर्प दंश, बोर बेल में गिरने, सीवेज सफाई के दौरान, जंगली जानवरों के हमले के दौरान मौत होने पर भी चार लाख रुपये की तत्काल सहायता देने का निर्णय लिया है। स्थानीय जनप्रतिनिधियों की मांग पर उन्होंने विस्तृत विचार विमर्श के उपरांत विकास कार्य कराए जाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार किसी क्षेत्र को उपेक्षित नहीं रहने देगी।

भारत बंद के पीछे भाजपा और संघ का हाथ-माले

लखनऊ। भाकपा (माले) ने कहा है कि एससी-एसटी कानून का विरोध करने वाले देश में संविधान की जगह मनुस्मृति लाना चाहते हैं। पार्टी ने इस कानून के खिलाफ भारत बंद का आह्वान करने वाली ताकतों के पीछे संघ-भाजपा का हाथ होने का आरोप लगाया और कहा कि यह दलित-विरोधी, लोकतंत्र-विरोधी मानसिकता का परिचायक है।

राज्य सचिव सुधाकर यादव ने गुरुवार को कहा कि बंद पूरी तरह फ्लाप रहा। उन्होंने कहा कि देशव्यापी प्रतिवाद के दबाव में राजग की केंद्र सरकार भले ही उक्त कानून को उसके पुराने स्वरूप में पुनर्बहाली के लिए बाध्य हुई, लेकिन ब्राह्मणवाद के समर्थकों को यह बात गवारा नहीं हो रही है। वे देश में मनुस्मृति वाली व्यवस्था लाना चाहते हैं। आरएसएस इसकी प्रबल समर्थक है। माले नेता ने कहा कि दलितों की सुरक्षा के लिये बना एससी-एसटी कानून उन्हें थाली में परोसकर नहीं दिया गया है, बल्कि उन्होंने संघर्ष कर इसे हासिल किया है। सर्वोच्च न्यायालय द्वारा इस कानून में संशोधन के बाद इसकी पुनर्बहाली भी दलितों के सड़कों पर संघर्ष के बूते हुई। लेकिन ब्राह्मणवादी ताकतें दलितों-आदिवासियों को दबाकर रखना चाहती हैं। ब्राह्मणवाद से ग्रस्त सत्ता मशीनरी इस कानून पर पूरी तरह से अमल नहीं होने देना चाहती। वरना आज भी दलितों को अपने ऊपर होने वाले अनगिनत सामंती किस्म के जुल्मों में न्याय के लिए भटकना नहीं पड़ता।

एससी-एसटी एक्ट का दुरुपयोग नहीं होने देंगे: श्रीकांत शर्मा

बलिया। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री एवं राज्य सरकार के प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने विपक्षी दलों पर षड्यंत्र कर अराजकता व जातीय हिंसा फैलाने का आरोप लगाते हुए कहा है कि अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निरोधी अधिनियम का दुरुपयोग व किसी का अनावश्यक उत्पीड़न नहीं होने दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि इस कानून का दुरुपयोग न हो व इसकी आड़ में राजनैतिक द्वेष के तहत कोई भी किसी को उत्पीड़ित न कर सके।

जिले के बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र का दौरा कर राहत सामग्री का वितरण करनेयहाँ आये ऊर्जा मंत्री शर्मा ने यहाँ संवाददाताओ से बातचीत करते हुए कहा कि भाजपा ‘सम्मान सबका व अपमान किसी का नहीं’ के मंत्र पर काम कर रही है। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निरोधी अधिनियम को लेकर किसी को भी परेशान होने की जरूरत नही है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि इस कानून का दुरुपयोग न हो व इसकी आड़ में राजनैतिक द्वेष के तहत कोई भी किसी को उत्पीड़ित न कर सके। उन्होंने जोर देकर कहा कि इस कानून के तहत किसी का भी अनावश्यक उत्पीड़न नही होने दिया जायेगा। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि इस कानून के प्राविधान के तहत अधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि कानून का दुरुपयोग व किसी का अनावश्यक उत्पीड़न न हो। भाजपा समाज के सभी वर्गों व दबे कुचले लोगों को सम्मान देने की पक्षधर है। उन्होंने कांग्रेस, सपा व बसपा पर हमला करते हुए आरोप लगाया कि यह दल लंबे समय से जाति व धर्म की राजनीति के जरिये देश को विभाजित करने का काम करते रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह हताश व निराश हैं तथा देश की प्रगति को रोकने के लिये षड्यंत्र करके अराजकता व जातीय हिंसा फैलाने का काम कर रहे हैं। उन्होंने जोर देकर कहा कि देश में अब न तो जाति कार्ड चलेगा व न धर्म कार्ड। देश मे सिर्फ विकास कार्ड चलेगा। उन्होंने कहा कि देश में अब सपा, बसपा व कांग्रेस की दाल गलने वाली नही है, क्योंकि 125 करोड़ लोग चट्टान की तरह मोदी जी के साथ खड़े हैं। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि मोदी जी देश को बढ़ा रहे हैं वहीं विपक्षी दलों के नेता षड्यंत्र के तहत देश के विकास में अड़चन पैदा कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी हर मोर्चे पर विफल-रामगोविन्द

बलिया। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष एवं समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता राम गोविंद चैधरी ने दावा किया है कि उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था की स्थिति दुनिया मे सबसे बदतर है। उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा है कि उन्हें हिन्दू व मुसलमान में झगड़ा कराने के लिये ही भाजपा ने मुख्यमंत्री बनाया है। गुरुवार को यहां पत्रकारों से बातचीत करते हुए विरोधी दल के नेता मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री हर मोर्चे पर विफल साबित हुए हैं। योगी राज में उत्तर प्रदेश में भ्रष्टाचार चरम पर है तथा कानून व्यवस्था की स्थिति दुनिया मे सबसे बदतर हो गयी है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के इतिहास में इतनी बदतर कानून व्यवस्था की स्थिति कभी नहीं रही। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि योगी जी हिंदू-मुसलमान में झगड़ा कराने में दक्ष रहे हैं, इसीलिए कम्यूनल कार्ड के जरिये राजनैतिक लाभ लेने के लिये योगी के जरिये हिन्दू व मुसलमान में झगड़ा कराने के उद्देश्य से भाजपा ने योगी को मुख्यमंत्री बनाया है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार की वादाखिलाफी, रोजगार, भ्रष्टाचार व जनहित से जुड़े अन्य मुद्दे को लेकर सपा भाजपा सरकार के खिलाफ आरपार की लड़ाई लड़ेगी।

धर्म परिवर्तन कराने के आरोप में 271 पर मुकदमा

जौनपुर। जिले में कथित तौर पर धर्म परिवर्तन करने वाले एक केंद्र के संचालक सहित तीन नामजद और 268 अज्ञात लोगों के खिलाफ चन्दवक थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। यह मुकदमा यहाँ के दीवानी न्यायालय के एसीजेएम पंचम के आदेश पर दर्ज हुआ है। इस संबंध में दीवानी न्यायालय के अधिवक्ता बृजेश सिंह के धारा 156(3) के तहत उक्त न्यायालय में दिए गए प्रार्थना पत्र पर आदेश दिया गया।

जानकारी के मुताबिक यह मामला चन्दवक थाना क्षेत्र के भूलनडीह गाँव का है। यहाँ चल रहे एक केंद्र द्वारा प्रार्थना के नाम पर सनातन धर्म से ईसाई धर्म में छल से परिवर्तन करने का आरोप था। इस सम्बंध में एक अधिवक्ता बृजेश सिंह ने 156 (3) के तहत न्यायालय में प्रार्थना पत्र देते हुए बताया कि उक्त केंद्र के संचालक दुर्गा प्रसाद यादव, कीरित रॉय, जितेंद्र सहित आठ युवतियां और 260 अज्ञात पादरी गत 10 वर्षो से जौनपुर सहित चार जिलों में सनातन धर्म के विरुद्ध प्रचार प्रवचन कर गरीब और पिछड़ों को धोखा देकर बहला फुसलाकर और रुपयों का लालच देकर ईसाई धर्म में शामिल कर रहे हैं। आरोपी सनातन धर्म की उपासना पद्धति और मूर्ति पूजा का मजाक उड़ाते हुए अपमान कर रहे थे। अंधविश्वास का सहारा लेकर जानलेवा बीमारी का गलत उपचार करते थे। गम्भीर बीमारी ठीक होने की झूठी गवाही लोगों से दिलवाते थे। मुकदमा दर्ज होते ही केंद्र संचालक सहित सभी आरोपी केंद्र में ताला लगाकर फरार हो गए हैं।

केन्द्रीय मंत्री स्मृति इरानी आज अमेठी दौरे पर

अमेठी। केंद्रीय मंत्री स्मृति जुबिन इरानी कल सात सितंबर को अमेठी के एक दिवसीय दौरे पर आ रही है। जानकारी के मुताबिक केन्द्रीय मंत्री कल 03ः30 बजे से 05ः30 बजे तक दीक्षान्त समारोह राजीव गांधी इन्सीटयूट आफ पेट्रोलियम टेक्नाॅलोजी बहादुरपुर, मुखेटिया हरबंशगंज जायस अमेठी में प्रतिभाग करेगी। उसके बाद सायं 05ः35 बजे आरजीआईपीटी, जायस, अमेठी से एयरपोर्ट लखनऊ के लिए प्रस्थान करेंगी।

ट्रक ने दो छात्राओं को रौंदा, एक की मौत, एक घायल 

एटा। गैस लेकर जा रहे ट्रक ने साइकिल से जा रही कक्षा आठ की दो छात्राओं को रौंदा जिससे एक की मौके पर मौत हो गई तथा दूसरी घायल हो गयी। जानकारी के अनुसार जनपद के थाना अलीगंज क्षेत्र के अलीगंज पटियाली मार्ग पर स्थित ग्राम कैल्ठा के समीप सड़क किनारे साइकिल से अपने घर जा रही 15 वर्षीय छात्रा श्वेता पुत्री वीरेन्द्र को गैस लेकर जा रहे ट्रक ने रौंद दिया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई तथा उसकी एक सहेली राधा गंभीर रुप से घायल हो गई जिसे पुलिस ने उपचार के लिए जिला चिकित्सालय भेजा है। बताया जाता है कि घटना के समय घटना के समय ट्रक में इंडियन कंपनी के सिलेंडर भरे हुए थे तथा घटना के तुरंत बाद ट्रक का चालक ट्रक छोड़कर घटनास्थल से फरार हो गया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मृतका के शव का पंचनामा भरकर उसे पोस्टमार्टम भेजा है।

नदी में स्नान करते समय दो किशोरों की डूबकर मौत

बलिया। जिले के बांसडीह कोतवाली क्षेत्र के किर्तुपुर गांव में आज दोपहर घाघरा नदी में स्नान करते हुए दो किशोरों की डूबकर मौत हो गई। जानकारी के अनुसार चार किशोर नदी में स्नान कर रहे थे। स्नान करते हुए वे गहरे पानी में चले गये तथा डूबने लगे। पुलिस के मुताबिक दो किशोरों को तो स्थानीय लोगों ने किसी तरह बचा लिया लेकिन रितेश यादव (14) और करन राजभर (15) की डूबने से मौत हो गयी। पुलिस ने दोनों किशोर का शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया है।

पिता-चाचा से निभा नहीं पाए, विपक्षी दलों से कैसे निभाएंगे अखिलेश-भाजपा

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी ने गुरुवार को सपा मुखिया अखिलेश यादव पर तंज कसते हुए कहा कि वे अपने पिता मुलायम सिंह यादव और चाचा शिवपाल यादव के साथ तो पारिवारिक गठबंधन निभा नहीं पा रहे हैं और भाजपा विरोधी राजनीतिक गठबंधन बनाने की बात कह रहे हैं। भाजपा के प्रदेष प्रवक्ता चंद्रमोहन ने यहां जारी बयान में कहा कि जिन व्यक्तियों ने उन्हें (अखिलेश) पाल पोसकर राजनीति में खड़ा किया, उन्हीं से अखिलेश को खतरा हो गया है। इस सोच के चलते वह किसी अन्य दल से गठबंधन कैसे कर पाएंगे ? उन्होंने कहा कि आज अखिलेश यादव की राजनीति में जो हैसियत है, वह उनके पिता और चाचा की बदौलत ही है जिन्होंने सपा की स्थापना कर उसे आगे बढ़ाया।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि अखिलेश यादव ने पहले तो अपने पिता से पार्टी का नेतृत्व छीना और अब उनकी घोर उपेक्षा भी कर रहे हैं। अपने पुत्र की कारगुजारियों से बेहद दुखी होकर मुलायम सिंह यादव को सार्वजनिक मंच से कहना पड़ा कि आज उनका कोई सम्मान नहीं करता, शायद मरने के बाद करे। उन्होंने कहा कि इस बयान से ही साबित हो जाता है कि मुलायम किस पीड़ा से गुजर रहे हैं। मुलायम सिंह यादव ही अखिलेश यादव को राजनीति में लाए थे और पार्टी में तमाम बड़े नेताओं को किनारे करके मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठाया था। प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि आज अखिलेश अपने पिता और चाचा को हाशिए पर ढकेलकर मायावती के सामने हाथ जोड़कर खड़े हैं। इसके बावजूद मायावती अखिलेश को गंभीरता से नहीं ले रही हैं। खुद वह अपने बयान में अखिलेश को राजनीतिक रूप से अपरिपक्व कह चुकी हैं।

बारिश के चलते सितम्बर के छह दिनों में ही यूपी में गयीं 73 जानें

लखनऊ। उप्र में बारिष कहर बन कर बरस रही है। बारिष से जहां नदियां उफान पर हैं तो वहीं लगातार चल-अचल संपत्ति का नुकसान हो रहा है। बारिष के चलते हुए हादसों में बीते 24 घण्टे में 15 और लोगों की मौत हो गयी। इस प्रकार एक सितंबर से अब तक मृतकों की संख्या बढकर 73 हो गयी है। वहीं अगले 24 घण्टे में भारी बारिष की चेतावनी ने लोगों के दिलांे की धड़कन बढ़ा दी है।

जानकारी के अनुसार फैजाबाद में चार, उन्नाव, रामपुर और गोण्डा में दो-दो तथा औरैया, हरदोई, मेरठ, एटा और गाजीपुर में एक-एक व्यक्ति की जान गयी है। उन्होंने बताया कि राज्य में वर्षाजन्य हादसों में कल नौ लोगों की मौत हुई थी। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक राज्य में आने वाले दो दिन में कहीं कहीं भारी वर्षा की संभावना है। बीते 24 घण्टे में सबसे अधिक 13 सेंटीमीटर वर्षा कन्नौज के छिबरामउ में हुई। वहीं गाजीपुर में 12, बांदा में 11, मोहम्मदाबाद, गरौठा (झांसी) में सात-सात, चुनार (मिर्जापुर) और बिल्हौर (कानपुर नगर) में पांच-पांच सेंटीमीटर बारिष हुई। उधर, केन्द्रीय जल आयोग ने बताया कि राज्य की बडी नदियां उफान पर हैं। गंगा, रामगंगा, शारदा, घाघरा और कुआनो नदियां अलग अलग जगहों पर खतरे के निशान को पार कर गयी हैं।

हनुमान त्रिपाठी बने प्रदेष कांगे्रस प्रषिक्षण कार्यक्रम के प्रभारी बनाये गए

लखनऊ । प्रदेष कांग्रेस राजबब्बर ने महामंत्री हनुमान त्रिपाठी को प्रशिक्षण कार्यक्रम का प्रभारी मनोनीत किया है। प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता ने बताया कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत प्रदेश, जिला, ब्लाक स्तर पर विभिन्न श्रेणी के प्रशिक्षण शिविरों का आयोजन किया जायेगा व प्रदेश स्तरीय तीन दिन, जिला स्तरीय दो दिन और ब्लाक स्तरीय एक दिवसीय प्रशिक्षण शिविर आयोजित किये जायेंगे। इसके सम्बन्ध मंे स्थिति निर्धारण हेतु कल सात सितम्बर को दिल्ली में आयोजित ओरियन्टेशन कार्यक्रम में हनुमान त्रिपाठी को बुलाया गया है।

राफेल को लेकर कांग्रेस सेवादल आज निकालेगा पद यात्रा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश कांग्रेस सेवादल ने राफेल विमान डील में केन्द्र सरकार द्वारा किये गये सदी के सबसे बड़े घोटाले के विरोध में पदयात्राओं का आयोजन कर भाजपानीत सरकार को घेरने का निर्णय लिया है। इस मुद्दे को लेकर कल सात सितम्बर को प्रदेश कांग्रेस सेवादल के स्वयंसेवक पदयात्रा निकालेंगे। यह पदयात्रा प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय से परिवर्तन चैक तक निकाली जायेगी इसका नेतृत्व सेवादल के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. प्रमोद कुमार पाण्डेय करेंगे।

यह जानकारी देते हुए उप्र कांग्रेस सेवादल के मीडिया प्रभारी एवं संगठन मंत्री राजेश सिंह ‘काली’ ने बताया कि राफेल विमान डील मुद्दे को लेकर भाजपा सरकार को कांग्रेस सेवादल बख्शने के मूड में नहीं है एवं कांग्रेस सेवादल इस मुद्दे को लेकर सड़कों पर उतरकर आर-पार की लड़ाई लड़ने जा रही है जिसकी शुरूआत सात सितम्बर को लखनऊ से होगी। राजेश सिंह ‘काली’ ने बताया कि कांग्रेस सेवादल ने प्रथम चरण में मण्डल स्तर पर, द्वितीय चरण में जिला स्तर पर, तृतीय चरण में ब्लाक, पंचायत स्तर पर जाकर सेवादल के स्वयंसेवक पदयात्राएं निकालकर जनता के बीच जाकर इस कृत्य का पर्दाफाश करेंगे। उन्होने कहा कि यह आम जनता का पैसा है और भाजपा सरकार ने जनता की जेब पर डाका डाला है।

योगी 2019 के बाद मुख्यमंत्री नहीं रहेंगे-अखिलेष

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के मुखिया एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भविष्यवाणी करते हुए कहा है कि योगी आदित्यनाथ 2019 में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं रहेंगे। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के हालात बेहद खराब हैं। भाजपा में मुख्यमंत्री पद के दावेदारों में लड़ाई तेज है। उन्होंने कहा कि भाजपा में 2019 में मुख्यमंत्री बदले जाने की आहट हैं। यही वजह है कि दावेदार काम में तेजी दिखा रहे हैं।

गुरुवार को यहां पार्टी के पूर्व सैनिक प्रकोष्ठ सम्मेलन में अपनेे सम्बोधन में सपा मुखिया ने कहा कि आजकल तो डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य जाति सम्मेलन कराने में काफी सक्रिय हैं। उन्होंने केशव प्रसाद मौर्य का नाम लिए बिना कहा, सरकार में उप मुख्यमंत्री का अपमान हुआ। अब उन्हें 2019 में मुख्यमंत्री बनाने की बात चल रही है। इसी कारण वह पिछड़ी जातियों के सम्मेलन करा रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा का सिर्फ एक ही काम है, लोगों को जाति के नाम पर, धर्म के नाम पर तथा ऊंच-नीच के नाम पर लड़ाना। भाजपा की इस चाल को अब लोग समझ गए हैं। उन्होंने कहा कि इस पार्टी के नेताओं ने अभी तक लोगों को हर तरह से परेशान करने के साथ ही आपस में लड़ाने का काम किया है। उन्होंने भाजपा पर शिक्षकों, किसानों, नौजवानों के अपमान का आरोप लगाया। पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार में महंगाई आसमान छू रही है। भारत दुनिया के मुकाबले बहुत पिछड़ गया है। भाजपा राज में लोकतंत्र को खतरा पैदा हो गया है। लोकतांत्रिक संस्थाओं को कमजोर किया जा रहा है।

भारत बंद के दौरान पथराव, छह पुलिस कमियों समेत नौ घायल 

बलिया (ईएमएस)। एससी-एसटी कानून के विरोध में सवर्ण समुदायों के राष्ट्रव्यापी बंद के आहवान का बलिया व ग्रामीण क्षेत्रों में व्यापक प्रभाव दिखाई दिया। बंद के दौरान पथराव में छह पुलिस कर्मी घायल तथा तीन अन्य लोग घायल हो गये। आंदोलन के समर्थन में बैरिया के भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह भी सड़क पर खुलकर सामने आये। उन्होंने संसद द्वारा किये गये संशोधन की विरोध करते हुए कहा कि वह सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय के साथ हैं।

बताया जाता है कि गड़वार थाना क्षेत्र के चिलकहर ग्राम में आंदोलन के समर्थन में सड़क जाम किया गया। इस दौरान दो पक्षों के बीच पथराव हुआ, जिसमे पुलिस वाहन क्षतिग्रस्त हुआ तथा छह पुलिस कर्मी घायल हो गये। बैरिया थाना क्षेत्र के बीबी टोला में बंदी के दौरान झड़प में तीन लोग घायल हो गये। उधर, विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा कि उनको सवर्ण जनता ने विधायक बनाया है, मुस्लिम व दलित ने नहीं। सवर्ण जो चाहेंगे,वह कुर्बानी देने को तैयार हैं। उनके सवर्ण समर्थक बोलेंगे कि विधायक पद से त्यागपत्र दे दो तो वह त्यागपत्र भी दे देंगे। बंदी के दौरान आंदोलन समर्थकों की भाजपा के बलिया सदर के विधायक आनंद स्वरूप शुक्ला से भी झड़प हुई। समर्थकों ने विधायक से आंदोलन में शरीक होने का अनुरोध किया, लेकिन विधायक ने मना कर दिया। इसके बाद आंदोलन समर्थकों ने विधायक मुर्दाबाद के नारे लगाये।

संदिग्ध परिस्थितियों में दंपत्ति झुलसे, पत्नी की मौत, पति गंभीर

भदोही। जिले में गुरुवार दोपहर पति-पत्नी के बीच हुए विवाद के दौरान संदिग्ध परिस्थितियों में लगी आग से दोनों झुलस गए। वहीं आग बुझाने पंहुचा एक व्यक्ति भी झुलस गया। तीनों को गोपीगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया जहाँ से पति नीरज शर्मा (35) को 60 प्रतिशत और उसकी पत्नी वंदना शर्मा (30) को 90 प्रतिशत से ज्यादा जल जाने पर वाराणसी रेफर कर दिया गया। वहां पर इलाज के दौरान वंदना शर्मा की मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक मामला सुरयावा थाना के कुसौली नथईपुर गाँव का है। आग क्यों और कैसे लगी पुलिस इसकी पड़ताल कर रही है। दोनों को बचाने गया गाँव का कमला शंकर राय (35) भी मामूली जल कर घायल हो गया उसका इलाज यहाँ किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

‘नमोस्तुते माँ गोमती’ के जयघोष से गूंजा मनकामेश्वर उपवन घाट

विश्वकल्याण कामना के साथ की गई आदि माँ