इस साल 4.7 फीसद के आस-पास रहेगी महंगाई, RBI से नहीं मिलेगी राहत: रिपोर्ट

- in कारोबार

एक अच्छे मानसून के बावजूद चालू वित्त वर्ष में महंगाई के औसत रुप से 4.7 पर रहने का अनुमान है जबकि पिछले वित्त वर्ष के दौरान यह 3.6 फीसद रही थी। साथ ही आने वाले महीनों में आरबीआई नीतिगत दरों को और सख्त बना सकती है। यह अनुमान डीबीएस ने लगाया है।इस साल 4.7 फीसद के आस-पास रहेगी महंगाई, RBI से नहीं मिलेगी राहत: रिपोर्ट

ग्लोबल फाइनेंस सर्विस की प्रमुख कंपनी के मुताबिक अच्छी बारिश कृषि ग्रोथ को बढ़ावा देगी लेकिन मुद्रास्फीति में आराम मिलना तेल की कीमतों, डॉलर के खिलाफ रुपये की वैल्यू और फिजिकल डायनमिक्स पर निर्भर करेगा। पिछले सप्ताह में भारत का दक्षिणपश्चिम मानसून सुधरा है। जलाशय स्तर में सुधार के साथ फसल बुवाई की गतिविधियां भी तेजी पकड़ रही हैं।

डीबीएस बैंक की इंडिया इकोनॉमिस्ट राधिका राव ने बताया, “प्रमुख मुद्रास्फीति पर अच्छे मानसून का असर हालांकि प्रत्यक्ष रुप से कम है, चूंकि मजबूत मॉनसून के पिछले एपिसोड का मतलब कम मुद्रास्फीति नहीं था, क्योंकि इसमें अन्य कारकों की बड़ी भूमिका थी।”  

डीबीएस की इस रिपोर्ट में उन्होंने कहा कि इस वर्ष सब्जियों, फलों और सामानों की अस्थिरता फूड इन्फ्लेशन को बढ़ाने वाले प्रमुख कारकों में रही है। कीमतें बढ़ाने में अन्य कारकों का भी हाथ रहता है जैसे कि वेज ग्रोथ, वैश्विक स्तर पर खाद्य कीमतों में सुधार, न्यूनतम समर्थन मूल्य में इजाफा, सिंचाई क्षमता और जलाशय के स्तर में सुधार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

छोटे व्‍यापारियों की दूर होंगी मुश्किलें, GST काउंसिल ने रिटर्न फॉर्म पर लिया यह फैसला

नई दिल्‍ली: व्‍यापारियों के लिए अच्‍छी खबर है. जीएसटी (GST)