इसी फरवरी में 16000 हो जाएगा सोने का दाम

- in Mainslide, कारोबार

सोना खरीदने वालों के लिए हम बड़ी खबर लेकर आए हैं। अगर आप गोल्ड में इनवेस्ट कर रहे हैं या फिर गोल्ड खरीदना चाहते हैं तो जल्द से जल्द खरीद लीजिए। कहा जा रहा है कि सोने की कीमतें 24 हजार तक जा सकती हैं। बताया जा रहा है कि नोटबंदी की वजह से देश भर में कैश की भारी किल्लत देखी जा रही है। इस वजह से कहा जा रहा है कि सोने की डिमांड में 80 फीसदी तक की कमी आई है। उधर ग्लोबल शेयर मार्केट में भी गोल्ड की कीमतों का दबाव बना हुआ है। इंडस्ट्री के एक्सपर्ट्स की मानें तो गोल्ड को लेकर ग्लोबल मार्केट में भारत का बहुत ही अहम रोल है। इस वजह से कहा जा रहा है कि अगर कैश की किल्लत आगे भी रहती है तो गोल्ड के रेट 25 हजार से नीचे जाने के पूरे आसार हैं।

कुछ एक्सपर्ट्स का कहना है कि बीते 50 दिनों से बाजार में कैश का प्रवाह लगातार कम होता जा रहा है। इस वजह से गोल्ड की डिमांड इतनी कम है कि इसका कारोबार 90 फीसदी तक घट चुका है। आपको बता दें कि भारत गोल्ड का दूसरा सबसे बड़ा कंज्यूमर है। कैश की किल्लत की वजह से व्यापारी गोल्ड नहीं मंगा रहे हैं। इस वजह से ये भी कहा जा रहा है कि गोल्ड के रेट लगातार कम होते दिख रहे हैं। इसके साथ ही कुछ मार्केट एनालिस्ट का कहना है कि गोल्ड के दाम आगे आने वाले 3 महीने तक लगातार गिर सकते हैं। इस वजह से कहा जा रहा है कि अभी गोल्ड के दाम 35 फीसदी तक और ज्यादा गिर सकते हैं। डिमांड लगातार कम होती जा रही है और इस वजह से गोल्ड के दाम लगातार गिरते जा रहे हैं।

लेकिन ये भी कहा जा रहा है कि बाजार की स्थिति नॉर्मल होने के बाद एक बार फिर से गोल्ड के दामों में बढ़ोतरी होगी। इसलिए हम आपको सलाह दे रहे हैं कि अगर आप गोल्ड खरीदना चाहते हैं या गोल्ड में इनवेस्ट करने का मन बना रहे हैं तो ये ही आपके लिए सबसे मुफीद वक्त है। करेंसी बैन के बाद से देश में लगातार कैश की कमी हो रही है और इस वजह से गोल्ड का बाजार लगातार सुस्त चल रहा है। ये कहा जा रहा है कि गोल्ड का मार्केट 80 फीसदी तक गिर गया है। देखा जा रहा है कि इस साल हर वक्त ज्वैलरी सेक्टर का नुकसान हुआ है। बजट में इससे पहले सरकार ने ज्वैलरी पर एक फीसदी एक्साइज ड्यूटी लगाई थी। इससे भी पूरे साल भर ज्वैलरी सेक्टर को नुकसान हुआ था।

देखा जा रहा है कि नोटबंदी के बाद से गोल्ड के रेट में करीब 3040 रुपये की गिरावट आई है। कहा जा रहा है कि ये गिरावट आगे भी जारी रहेगी। इसकी अहम वजह कैश की किल्लत ही बताई जा रही है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि आने वाले वक्त में सोना और ज्यादा सस्ता होगा। बताया जा रहा है कि ये दाम 24 हजार तक पहुंच सकते हैं। इस लेवल पर पहुचने के बाद गोल्ड के रेट में फिर से बढ़ोतरी हो सकती है क्योंकि उम्मीद जताई जा रही है कि तब तक कैश की समस्या पूरी तरह से हल हो जाएगी। इस वजह से इंतजार ना करें, अगर आपके घर में कोई बड़ा आयोजन होने वाला है और आज ज्वैलरी खरीदने की सोच रहे हैं तो गोल्ड पर जल्द से जल्द इनवेस्ट करें, हो सकता है कि आपके लिए ये फायदे का सौदा हो जाए।

loading...
Loading...
Loading...
=>
loading...
=>

You may also like

अब लखनऊ के लोहिया संस्थान में MBBS की पढ़ाई , जानें कुल कितनी सीटें मिलीं

लखनऊ । एमबीबीएस की तैयारी कर रहे छात्रों