इन 4 प्रकार के लोगों को कभी अच्छी नींद नहीं आती

- in धर्म

हम सभी रात के वक्त चैन की नींद सोना चाहते हैं। अच्छी और भरपूर नींद के लिए हम हर दिन जतन करते हैं। लेकिन कुछ ऐसे लोग होते हैं, जो हर सुविधा होते हुए भी रात को चैन से नहीं सो पाते। इन लोगों को बारे में महाभारत काल के विख्यात नीतिज्ञ महात्मा विदुर ने अपनी पुस्तक विदुर नीति में बताया है। जानें, कौन-से हैं ये 4 तरह के लोग…इन 4 प्रकार के लोगों को कभी अच्छी नींद नहीं आती

किससे कहीं विदुर ने ये बातें?
महाभारत युद्ध की रणनीति के समय महाराज धृतराष्ट्र बहुत व्याकुल थे। इस व्याकुलता के कारण वह सो नहीं पा रहे थे। तब उन्होंने विदुर से अपने मन की व्याकुलता साझा की। विदुर एक दासीपुत्र थे और धृतराष्ट्र के महामंत्री थे। उन्हें बाद में अपनी नीतियों के कारण ख्याति प्राप्त हुई। व्याकुल धृतराष्ट्र ने महामंत्री विदुर को बुलवाया। तब धृतराष्ट्र ने विदुर से कहा कि मेरा मन बहुत व्याकुल है। जब से संजय पांडवों के यहां से लौटकर आए हैं, तब से मेरा मन बहुत अशांत है। मैं यह सोचकर चिंतित हूं कि संजय कल सभा में सभी के सामने क्या कहेगें। इस वजह से मन व्यथित है और नींद नहीं आ पा रही है। यह सुनकर विदुर ने महाराज से कहा कि रात को इन 4 तरह के लोगों की नींद उड़ जाती है। आगे जानें, कौन हैं ये लोग…

जिनकी काम भावना बढ़ जाती है
महात्मा विदुर ने धृतराष्ट्र से कहा कि यदि किसी व्यक्ति के मन में कामभाव जाग जाती है तो वह रात को सो नहीं पाता है। काम भावना की तृप्ति के बिना मनुष्य को नींद नहीं आती है। इतना ही नहीं काम भावना की प्रबलता के कारण व्यक्ति का मन अशांत हो जाता है और वह किसी काम को ठीक से नहीं कर पाता है। यह स्थिति स्त्री और पुरुष दोनों पर लागू होती है।

शत्रु आपसे बलवान हो
विदुर, धृतराष्ट्र से कहते हैं कि उस व्यक्ति की भी रातों की नींद उड़ जाती है, जिसे ज्ञात हो की उसका शत्रु उससे अधिक बलवान है। निर्बल और साधनहीन व्यक्ति हर समय शत्रु से बचने के उपाय सोचता रहता है। किसी भी वक्त हानि हो जाने का डर उसे सताता रहता है। इस कारण उसका मनअशांत हो जाता है और उसकी नींद उड़ जाती है।

जब सब कुछ छिन जाता है
चाहे किसी भी परिस्थिति में, यदि किसी व्यक्ति का सब कुछ छीन लिया गया हो तो उसकी रातों की नींद उड़ जाती है। ऐसा इंसान न तो चैन से जी पाता है और ना ही सुकून से सो पाता है। वह हर समय अपनी छीन ली गई वस्तुयों या स्थिति को पुन: प्राप्त करने के बारे में सोचता रहता है। उसका दिमाग हर समय ऐसी योजनाएं बनाने में व्यस्त रहता है, जिनसे वह अपना सब कुछ फिर से प्राप्त कर सके। तब वह सुकून से सो नहीं पाता

नीयत में आ जाए खोट
यदि किसी व्यक्ति की प्रवृत्ति चोरी करने की है या धोखे से किसी की चीजें कब्जाने की हो तब भी व्यक्ति सो नहीं पाता है। चोरी करके पेट भरनेवाले लोग भी रात को सो नहीं पाते, जिसे चोरी करने की आदत हो, वह दूसरों का धन चुराने की योजनाएं बनाता रहता है। यह काम वह रात में ही आराम से कर सकता है इसलिए सो नहीं पाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

हाथों की ऐसी लकीरों वाले लोग बिना संघर्ष के बनतें है अमीर

हर एक व्यक्ति की हथेली पर बहुत सी