इन औरतों की वजह से बना भारत का अंतरिक्ष से कनेक्शन

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (इसरो) ने एक साथ 104 सैटेलाइट्स को लांच करके नया इतिहास रचा है। एक अंतरिक्ष अभियान में इससे पहले इतने उपग्रह एक साथ नहीं छोड़े गए हैं। इसरो का अपना रिकॉर्ड एक अभियान में 20 उपग्रहों को प्रक्षेपित करने का है. इसरो ने ये कारनामा 2016 में किया था।

इन औरतों की वजह से बना भारत का अंतरिक्ष से कनेक्शन

 
इससे पहले जब साल 2014 में भारतीय वैज्ञानिकों ने अपना उपग्रह मंगल की कक्षा में स्थापित किया था, तब सोशल मीडिया पर एक फोटो बहुत वायरल हुआ था। उस फोटो में दिखाया गया था कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन यानी इसरो के मुख्यालय बैंगलुरु में लकदक साड़ियां पहनी हुई और बालों में फूल लगाई हुई महिलाएं इस मौके पर जश्न मना रही हैं।

अब नौसेना के लिए हल्के लड़ाकू विमान का नया संस्करण आएगा

यह कहा गया था कि ये महिलाएं वैज्ञानिक हैं। इससे यह स्थापित मान्यता टूटी थी कि अंतरिक्ष विज्ञान में सिर्फ पुरुष ही हैं। बाद में यह पता चला कि ये महिलाएं वैज्ञानिक नहीं, प्रशासनिक विभाग में काम करती थीं।
लेकिन यह भी पता चला कि मंगल अभियान में वाकई कई महिला वैज्ञानिक जुड़ी हुई थीं। वे रॉकेट छोड़े जाते समय कंट्रोल रूम में थीं और पल-पल होने वाली घटना पर नजर रखे हुए थीं।

 
News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button