आयकर विभाग के छापे पर सीएम कमलनाथ ने तोड़ी चुप्पी, दिया ये बयान

Loading...

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के सहयोगियों के ठिकानों पर आयकर विभाग की कार्रवाई तीसरे दिन मंगलवार को भी जारी है। अब इस मामले में मुख्यमंत्री कमलनाथ का बयान आ गया है। उन्होंने इसे राजनीतिक साजिश बताया है। कमलनाथ ने कहा, “राजनीतिक दृष्टि से जो करने का प्रयास किया जा रहा है, उसमें कोई सफल होने वाला नहीं है।’

आयकर विभाग के छापे पर सीएम कमलनाथ ने तोड़ी चुप्पी, दिया ये बयान

छापे में प्रवीड़ कक्कड़ (मुख्यमंत्री कमलनाथ के ओएसडी) के करीबी अश्विन शर्मा के घर से बाघ की खाल बरामद की गई है। वन विभाग की टीम उनके घर पहुंची है।

अश्विन शर्मा के निवास से काले हिरण, बाघ, हिरण और तेंदुए आदि की ट्रॉफियां भी बरामद की गई हैं। इसके साथ ही चित्तीदार हिरण की खाल भी मिली है। मामले पर वन विभाग का कहना है कि कागजों की जांच के बाद ‘वन्यजीव संरक्षण अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी।’

वहीं आयकर विभाग की कार्रवाई पर प्रवीण कक्कड़ का कहना है, “मेरे विचार से यह (आयकर छापे) पूरी तरह से राजनीतिक कार्रवाई थी। आयकर विभाग को मेरे या मेरे परिवार के किसी भी ठिकाने से ऐसा कोई भी दस्तावेज या नकदी या आभूषण नहीं मिला जिसे आपत्तिजनक कहा जा सके।”

उन्होंने कहा, “मेरे दोनों बैंक लॉकरों की जांच में भी आयकर अधिकारियों को कोई भी आपत्तिजनक चीज नहीं मिली। हवाला की राशि या किसी राजनीतिक पार्टी के लिए धन संग्रह से भी मेरा कोई लेना-देना नहीं है।”

उन्होंने आगे कहा, “आयकर विभाग की दिल्ली से आई टीम के अधिकारी लगभग 48 घंटे मेरे घर में रहे। वे (रविवार) तड़के साढ़े तीन बजे के आसपास दरवाजे तोड़कर मेरे घर में घुसे थे। मेरे घर में घुसने का उनका तरीका गलत था। हालांकि, दो दिन की बारीक छानबीन के बाद भी उन्हें ऐसी कोई भी आपत्तिजनक वस्तु नहीं मिली, जिसे वे जब्त या बरामद कर सकें।”

अब तक क्या-क्या मिला?
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के करीबियों के यहां जारी छापे में करोड़ों के अवैध लेनदेन का पता चला है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने कहा है कि दिल्ली के तुगलक रोड स्थित एक महत्वपूर्ण शख्स के घर से 20 करोड़ रुपये नकद एक बड़े दल के दिल्ली स्थित मुख्यालय भेजा गया है। उल्लेखनीय है कि तुगलक रोड में कई विशिष्ट लोग रहते हैं।

सीबीडीटी ने देर रात एक बयान जारी कर कहा कि छापे की अब तक की कार्रवाई में 14.6 करोड़ रुपये नकद, 252 बोतल शराब, कुछ हथियार और बाघ के छाल मिले हैं। बयान में यह भी कहा गया है कि मध्यप्रदेश में छापेमारी के बाद एक बड़े रैकेट के जरिए कारोबारी, नेता और नौकरशाहों से 281 करोड़ के अवैध लेनदेन का पता चला है।

एक वरिष्ठ पदाधिकारी के करीबी रिश्तेदार के समूह के दिल्ली स्थित ठिकानों पर छापों के दौरान कई सबूत मिले। इनमें एक कैशबुक भी शामिल है, जिसमें 230 करोड़ के बेनामी लेनदेन का जिक्र है।

कैशबुक के अलावा 242 करोड़ रुपये की रकम के फर्जी बिलों के जरिए हेरफेर और टैक्स हेवेन कहे जाने वाले देशों में 80 कंपनियों की मौजूदगी के सुबूत भी मिले हैं। दिल्ली के पॉश इलाकों में बेनामी संपत्तियों का भी खुलासा हुआ है।

डायरियां, कंप्यूटर फाइल और एक्सल फाइल मिलीं
विभाग ने रविवार को तड़के 3 बजे मप्र, गोवा, पश्चिम बंगाल और दिल्ली के 52 ठिकानों पर छापे की कार्रवाई शुरू की थी। कार्रवाई का मुख्य केंद्र राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) स्थित एक समूह, भोपाल, इंदौर और गोवा थे। विभाग को छापे के दौरान हाथ से लिखी कई डायरियां, कंप्यूटर फाइल और एक्सल फाइल मिलीं।

कमलनाथ के सलाहकार राजेन्द्र मिगलानी के घर 30 घंटे से ज्यादा समय से छापा मारा गया। आयकर विभाग को इलेक्शन बॉन्ड खरीदे जाने के दस्तावेज मिले हैं। दस्तावेज में लिखा है ‘इलेक्शन बॉन्ड-200’। छापे में अनेक डायरियां और कंप्यूटर पर पिछले कुछ महीनों का हिसाब भी मिला है।

इन दस्तावेजों में दुबई में भी एक प्रॉपर्टी खरीदे जाने का जिक्र है। फर्जी शेल कंपनियों के जरिए 250 करोड़ रुपये से ज्यादा कालाधन सफेद किए जाने की आशंका जताई जा रही है।

आयकर विभाग की टीम सीएम के निज सचिव प्रवीण कक्कड़ की पत्नी साधना को लेकर आईडीबीआई बैंक गई और लॉकर खुलवाया। इसमें से 48 लाख रुपये की ज्वेलरी मिली है। इसके पहले घर से 30 लाख की ज्वेलरी मिल चुकी है।

आयकर की टीम कक्कड़ के बेटे सलिल को लेकर बीसीएम हाइट्स गई, यहां पर उनकी थर्ड आई, शरद बिल्डर्स, ऐश्वर्याबिल्डर्स व अन्य कंपनियों के दफ्तर है, जिसमें वह डायरेक्टर है। प्रवीण कक्कड़ के सीए का कहना है कि सारी ज्वेलरी रिर्टन शो में है। उनका परिवार पूरी आय शो करता है और टैक्स देता है।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com