आप जानते है इस्लाम की कुछ घिनौनी सेक्स प्रथा के बारे में जिसमे जवान लड़की को नग्न… देखे तस्वीरें

- in 18+

इस्लाम दुनिया के सबसे बड़े धर्मों में से एक है. धरती पर कई देश हैं जो पूर्णतया इस्लामिक नियम कानूनों पर चलते हैं लेकिन हर देश के अपने नियम हैं और अपने रिवाज हैं. आप जानते है इस्लाम की कुछ घिनौनी सेक्स प्रथा के बारे में जिसमे जवान लड़की को नग्न… देखे तस्वीरें

इस्लाम में सेक्स जैसी साधारण चीज पर चर्चा करना कोई गलत बात नही है अगर ये सीधे या किसी तरह से धर्म से जुड़ा हुआ है  हालांकि इसका अर्थ ये नहीं है कि, इस्लाम में सेक्स को लेकर कोई गलत नजरिया है बल्कि सेक्स के मामले में इस्लाम अन्य सभ्यताओं की तरह हमेशा से बेहद उदार रहा है.हम आज आपको बताने जा रहे हैं इस्लाम के कुछ ऐसे ही सेक्स रिवाजों के बारे में जिनके बारे में आपने शायद ही पहले कभी सुना हो :

निकाह मुताह इस्लाम में उस प्रथा को कहा जाता है जिसमें मात्र कुछ दिनों के लिए शादी की जाती है. आपको जानकर हैरानी होगी कि, ये कुछ मिनट से लेकर कुछ घंटो के लिए भी हो सकती है.

इस प्रकार की शादी के लिए लड़के के द्वारा लड़की को समझौते के अनुसार तय की गयी रकम चुकानी पड़ती है. जिसे मेहर कहा जाता है. ईरान जैसे शिया देशों में ये प्रथा खूब प्रचलित है.

भारत में निकाह मुताह

पिछले दिनों भारत में यह प्रथा तब चर्चा में आयी थी जब हैदराबाद में ऐसे मामलों में बढ़ोत्तरी देखी गयी थी. हैदराबाद में बड़े पैमाने पर अरब देशों के वे शेख आना शुरू हो गये थे जो स्थानीय लड़कियों से कुछ दिनों के लिए निकाह रचाते और मौज मस्ती के बाद अपने वतन लौट जाते.

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो इस प्रथा के लिए घर के मालिकों की भी सहमति होती थी जो पैसे के लिए अरबियों को अपनी बेटी सौंप देते थे.

हालांकि कुछ दिनों तक ये मामला दबा रहा लेकिन जब बाहर आया तो काफी बवाल मचा. बड़े पैमाने पर लोगों ने इस प्रथा के खिलाफ अपना विरोध जताया.

निकाह मुताह भी तीन तलाक एवं हलाला की तरह ही इस्लाम की बेहद पुरानी एवं एतिहासिक प्रथा है जो सदियों से अनवरत चली आ रही है.

जिहाद उल निकाह/सेक्स जिहाद

सेक्स जिहाद इस्लाम की एक अति विवादित प्रथा है. जो पिछले दिनों चर्चा में तब आयी थी जब खूंखार आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट और बोको हरम के आतंकवादी आये दिन खून की नदियाँ बहा रहे थे.

इस सेक्स जिहाद प्रथा का खुलासा तब हुआ था, जब ये जानकारी सामने आयी कि, सीरिया और नाइजीरिया में बड़े पैमाने पर ढेर सारी लड़कियां आतंकी संगठन के आतंकियों को सेक्स सुविधाएँ देने के लिए आतंकी कैंपों में जाती थीं.

बताया जाता है जहाँ कुछ ये कार्य अपनी मर्जी से करती थीं वहीं बड़े पैमाने पर उन्हें जबरदस्ती इस काम में धकेला जाता था.

सनी लियोन और राखी को भी मात दे रही हैं…

इस तरह पूरा होता है सेक्स जिहाद

ये लड़कियां आतंकी कैंपों में जाकर उन खूंखार आतंकवादियों को तब तक सेक्स सुविधा प्रदान किया करती थीं जबतक कि वह गर्भवती नहीं हो जाती थीं.

एक बार गर्भवती होने के बाद सेक्स जिहाद प्रथा को पूर्ण माना जाता था और वह लड़की चाहे तो फिर अपने पुराने स्थान पर वापस लौट सकती थी. कई मामलों में औरतों को सेक्स गुलाम बनाने की घटनाएँ भी चर्चा में आयी थीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

पार्टनर को लाना है करीब तो अपनाएं ये आसान टिप्स

रिश्ते बहुत नाजुक होते हैं। कई बार हम