आपने वैवाहिक जीवन में चल रही परेशानी को जड़ से खत्म करता है यह चमत्कारी मंत्र

दुनिया का हर इंसान अपने वैवाहिक जीवन को खुशियों से भरना चाहता है वह यही चाहता है कि उसका वैवाहिक जीवन अच्छा खासा चलता रहे लेकिन असल में ऐसा हो पाना काफी मुश्किल होता है जीवन में समस्याओं का आना तो लाज़मी है हर इंसान के जीवन में समस्या आती और जाती रहती हैं। हर समस्या अलग-अलग होती है जिनमें से कुछ समस्या वैवाहिक जीवन से जुड़ी होती है। दाम्पत्य जीवन में आपसी सूझ-बूझ की कमी से भी समस्या पनप उठती हैं और अगर इनका जल्दी समाधान नहीं निकाला जाये तो यह धीरे-धीरे बड़ी होने लगती है और एक दिन इतनी बड़ी हो जाती हैं कि इनका समाधान हो पाना मुश्किल हो जाता है। आज हम आपको कुछ इसी प्रकार की समस्या से जुड़े समाधान के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हे करने के बाद आप भी अपने वैवाहिक जीवन में चल रही समस्याओं को जड़ से खत्म कर सकते हैं तो चलिए जानते हैं कौन से वह उपाय हैं?

दरअसल सनातन धर्म में ऐसी कई मान्यताएं हैं जिनके अनुसार पूजा और आराधना कर धर्म, कर्म, मोक्ष को पा सकते हैं। हिन्दु धर्म में त्रिदेव यानी भगवान विष्णु, भगवान शिव और ब्रह्मा जी के अलावा कई सारे देवता की पूजा का विधान है मान्यता है कि अलग अलग देव की स्तुति से अलग अलग परिणाम प्राप्त होते हैं जैसे आप धन के देव कुबेर की पूजा करेंगे तो आपको धन-धान्य की कभी कमी नही होगी, वर्षा के लिए इंद्र देव की स्तुति की जाती है वैसे ही दाम्पत्य जीवन के लिए काम के देवता ‘कामदेव’ को पूजनीय माना जाता है

मान्यता है कि कामदेव की पूजा से आपको जीवन में असीम प्रेम की प्राप्ति होती है, इसलिए इनकी आराधना पति-पत्नी के लिए श्रेष्ठकर मानी गयी है। साथ ही कामदेव की पत्नी रति की स्तुति भी दाम्पत्य जीवन के लिए कल्याणकारी मानी जाती है, रति श्रृंगार और प्रेम की देवी मानी जाती है ऐसे में मान्यता है की इनकी आराधना से व्यक्ति के जीवन में आकर्षण और प्रेम बना रहता है। इसके साथ ही शास्त्रों में रति की स्तुति के लिए एक विशेष मंत्र का उल्लेख किया गया है जिसके बारे में मान्यता है कि अगर कोई व्यक्ति पूरी निष्ठा से मंत्र का जाप करें तो उसे जीवन में प्रेम और दाम्पत्य का भरपूर सुख मिलता है। चलिए जानते हैं उस मंत्र के बारे में ..

“ऊं कं कं ज्ञं ज्ञ: मम…वश्य कुरु कुरु स्वाहा” 

ये है देवी रति का वो विशेष मंत्र जिसके जाप से आपके वैवाहिक जीवन की हर समस्या हल हो जाती है । इस मंत्र का आपको 108 बार जाप करना है वो भी 21 दिनों तक लगातार ऐसा करने से आपका वैवाहिक जीवन इतना सुंदर और आदर्श बन जाएगा जिसकी कल्पना आपने सिर्फ सपनों में की होगी। तो देर किस बात की अगर आपकी शादी हो चुकी है या फिर होने वाली है तो अपने वैवाहिक जीवन में खुशियों के रंग भरने के लिए इस मंत्र का जाप आप भी अवश्य करें।

Loading...
loading...
error: Copy is not permitted !!

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com