Home > राज्य > कश्मीर > आतंकियों ने गश्‍ती दल पर किया ग्रेनेड अटैक, दो सैनिक घायल

आतंकियों ने गश्‍ती दल पर किया ग्रेनेड अटैक, दो सैनिक घायल

जम्मू-कश्मीर में सीजफायर खत्म होने के बाद सेना का ऑपरेशन लगातार जारी है। कुपवाड़ा में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई, इस ऑपरेशन में सेना ने एक आतंकी को मार गिराया।जम्मू-कश्मीर के शोपियां में सैन्य गश्ती दल में आतंकवादियों ने ग्रेनेड से अटैक किया है जिसमें सेना के एक जवान के घायल होने की जानकारी है। सेना का सर्च ऑपरेशन जारी है।

जानकारी हो कि जम्‍मू कश्‍मीर के शोपियां में आतंकियों ने सेना की पेट्रोलिंग पार्टी पर ग्रेनेड से हमला किया है। दक्षिण कश्‍मीर के शोपियां के अहगम में हुए इस हमले में सेना का एक जवान घायल है। बताया जा रहा है कि सेना ने कुपवाड़ा जिले में त्रेहगाम के पास एक आतंकी को एनकाउंटर में मार गिराया है।

हमले के बाद सेना ने पूरे इलाके को घेर लिया और आतंकियों की तलाश के लिए सर्च ऑपरेशन लॉन्‍च किया। एक हफ्ते पहले ही अनंतनाग के गांव श्रीगुफवारा में आतंकियों और सुरक्षाबलों की मुठभेड़ में आईएसआईएस के चार आतंकियों को सेना और सुरक्षाबलों ने एनकाउंटर में ढेर कर दिया था।

आतंकी हमले में दो सैनिक घायल 

आतंकवादियों ने दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले में सेना पर पहले ग्रेनेड और फिर फायरिंग की। इसमें सेना के दो जवान घायल हो गए। दोनों घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। वहीं आतंकियों को पकड़ने के लिए सुरक्षाबलों ने अभियान चलाया हुआ है। यह घटना शुक्रवार सुबह की है। शोपियां के गांव अहगाम में आतंकियों ने आर्मी गुड स्कूल की सुरक्षा में तैनात सेना की 44 आरआर के जवानों पर ग्रेनेड फेंका। इसके बाद अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। इसमें दो जवान घायल हो गए। इसके बाद आतंकी वहां से भाग निकलने में सफल रहे। एसएसपी शोपियां शैलेंद्र मिश्रा के अनुसार दो से तीन आतंकियों ने सेना के जवानों पर ग्रेनेड हमला किया। उन्होंने कहा कि पूरे क्षेत्र को घेर कर तलाशी अभियान चलाया हुआ है। अभी तक कोई भी पकडा नहीं गया है। 

जम्मू-कश्मीर में रमजान सीजफायर खत्म होने के बाद सेना का ऑपरेशन लगातार जारी है। शुक्रवार को कुपवाड़ा में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई, इस ऑपरेशन में सेना ने एक आतंकी को मार गिराया। ये ऑपरेशन कुपवाड़ा के त्रेहग्राम इलाके में हुआ है। ऑपरेशन सुबह करीब 5.30 बजे से जारी था।

इसके अलावा आतंकियों ने शोपियां में सेना की टुकड़ी पर ग्रेनेड फेंकी, इसमें सेना का एक जवान घायल हुआ है।जिसके बाद सेना का सर्च ऑपरेशन जारी है।

मुस्तैद हैं एजेंसियां

आपको बता दें कि अमरनाथ यात्रा की वजह से जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा एजेंसियां पूरी तरह से मुस्तैद हैं। सुरक्षा को देखते हुए एजेंसियों ने कई तरह की तैयारियां की हैं, ताकि किसी भी परिस्थिति से निपटा जा सके। जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद की समस्या से निपटने के लिए सुरक्षा एजेंसिया तीन आयामों पर काम कर रही है। एक तरफ ऑपरेशन ऑल आउट के जरिये आतंकियों का सफाया किया जा रहा है। वहीं एनआईए और ईडी बड़े स्‍तर पर सीमा पार से आने वाले आर्थिक स्रोतों और आतंक के व्यापारियों पर नकेल कस रही है। इसी कड़ी में हुर्रियत नेताओं पर भी नकेल कसी जा रहा है । तीसरा कदम ये है कि राज्यपाल शासन के दौरान भी सामाजिक पक्ष के सभी वर्गों से बात करने के लिए इंटरलॉक्यूटर काम करते रहेंगे। 

ज्ञात हो कि, श्री अमरनाथ यात्रा पर हमले की फिराक में विभिन्न जगहों पर छिपे आतंकियों को पकड़ने के लिए सुरक्षाबलों ने दक्षिण कश्मीर से लेकर उत्तरी कश्मीर तक छह जगहों पर कासो (घेराबंदी कर तलाशी अभियान) चलाया।

इस दौरान पुलवामा के बेलू इलाके में सुरक्षाबलों को आतंकी समर्थक हिंसक भीड़ के विरोध का भी सामना करना पड़ा। हालात पर काबू पाने के लिए सुरक्षा बलों को बल प्रयोग करना पड़ा, अन्यत्र स्थिति लगभग शांत रही। कल गुरूवार को दोपहर बाद सेना की 44 आरआर और राज्य पुलिस के जवानों ने सीआरपीएफ के दस्ते के साथ पुलवामा जिले के बेलू गांव में छिपे आतंकियों को पकड़ने के लिए भी कासो चलाया था।

जवानों को घेराबंदी करते देख शरारती तत्वों ने जवानों पर पथराव शुरू कर दिया। स्थिति काबू करने के लिए सुरक्षाबलों को लाठियों व आंसूगैस का सहारा लेना पड़ा। इसके बाद हिंसक झड़पों का दौर शुरू हो गया। हिंसक झड़पों की आड़ में आतंकियों ने गांव से भाग निकलने के प्रयास में जवानों पर फायरिंग भी की। जवानों ने भी जवाबी फायर किया।

इसी दौरान सुरक्षाबलों ने जिला अनंतनाग के अरवनी इलाके में आतंकियों के अपने किसी संपर्क सूत्र के पास आने की खबर मिलने पर कासो चलाया। इससे पहले सुबह सुरक्षाबलों ने अनंतनाग जिले के सीपन इलाके में भी कासो चलाया लेकिन वहां कुछ नहीं मिला।

पुलवामा के साथ सटे जिला शोपियां के पिंजौरा इलाके में भी सुरक्षाबलों ने आतंकियों को पकड़ने के लिए कासो चलाया, जिसे स्थानीय लोगों के हिंसक प्रतिरोध के बाद समाप्त कर दिया गया। इधर, जिला बांडीपोर के शादीपोरा इलाके और सोपोर के नाथिपोरा में भी सुरक्षाबलों ने आतंकियों को पकड़ने के लिए कासो चलाए। सोपोर में कासो देर रात गए तक जारी था। 

Loading...

Check Also

लश्कर की महिला ओजीडब्ल्यू गिरफ्तार, 10 ग्रेनेड और एके राइफल की 365 गोलियां बरामद

लश्कर की महिला ओजीडब्ल्यू गिरफ्तार, 10 ग्रेनेड और एके राइफल की 365 गोलियां बरामद

श्रीनगर के बाहरी इलाके से पुलिस ने एक महिला ओजीडब्ल्यू को गिरफ्तार कर उसके कब्जे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com