आतंकवाद के खिलाफ, पीएम मोदी के साथ आया यह बड़ा देश

भारत और इस्राइल ने आतंकवाद को दोनों देशों का संयुक्त दुश्मन करार देते हुए इस चुनौती से मिलकर मुकाबला करने की घोषणा की है। इस्राइल के राष्ट्रपति रुवेन रिवलिन और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच हुई द्विपक्षीय वार्ता के बाद संयुक्त बयान में दोनों देशों ने आतंकवाद की कड़ी निंदा की।आतंकवाद के खिलाफ मिलकर मुकाबला करेंगे भारत और इस्राइल

आतंकवाद के खिलाफ मिलकर मुकाबला करेंगे भारत और इस्राइल

इस दौरान पीएम मोदी ने पाकिस्तान का नाम लिए बगैर उसके खिलाफ जोरदार हमला बोला। उन्होंने कहा कि भारत का पड़ोसी देश आतंकवाद को संरक्षण देने के साथ ही इसका पोषण भी कर रहा है। दोनों देशों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता में जल संसाधन प्रबंधन और कृषि क्षेत्र में समझौते पर सहमति बनी।

वार्ता के बाद संयुक्त बयान में पीएम मोदी ने कहा कि भारत और इस्राइल दोनों देश आतंकवाद से पीड़ित हैं। भारत के पड़ोस में आतंकवाद पनप रहा है। दुनिया को चाहिए कि वह आतंकवाद के पनाहगारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे।

इस्राइल को भारत का सदियों पुराना मित्र देश बताते हुए पीएम मोदी ने कहा कि दोनों देश बीते कुछ सालों में रक्षा, कृषि, व्यापार सहित कई अन्य क्षेत्रों में और करीब आए हैं। पीएम ने इस दौरान संयुक्त राष्ट्र की स्थायी सदस्यता के लिए इस्राइल से मिले समर्थन के लिए रिवलिन को धन्यवाद दिया।

रिवलिन ने दोनों देशों के बीच सहयोग को और आगे ले जाने की बात कही। उन्होंने कहा कि दोनों देश विभिन्न क्षेत्रों में साथ बढ़ते हुए अच्छा परिणाम हासिल कर रहे हैं। रिवलिन ने आतंकवाद की कड़ी निंदा की और कहा कि भारत की तरह इस्राइल भी आतंकवाद से पीड़ित देश है।

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button