आज बन रहा है शुभ संयोग, इस प्रकार कम करे शनिदेव का प्रकोप

- in धर्म
14 जुलाई 2018, शनिवार का दिन बहुत खास है। इस शनिवार को पुष्य नक्षत्र पड़ रहा है। ज्योतिष में सभी 27 नक्षत्रों में पुष्य नक्षत्र को सबसे बढ़िया नक्षत्र माना गया है। शनिवार को पुष्य नक्षत्र होने से शनि पुष्य योग बन रहा है। इसके अलावा शनिवार से ही गुप्त नवरात्रि की शुरुआत भी हो रही है। जिसके कारण से यह शनिवार बहुत शुभफलदायक होने वाले है। ऐसे में जिन लोगों की कुंडली में शनि की अशुभ छाया है उनके लिए कुछ उपाय करने से यह शनिवार लाभदायक रह सकता है। ज्योतिष गणना के अनुसार इस समय वृश्चिक,धनु और मकर राशि पर शनि की साढ़ेसाती चल रही है। वहीं  वृष और कन्या राशि पर शनि की ढैय्या का असर है। ऐसे में शनि की कुदृष्टि से बचने के लिए कुछ उपाय किया जा सकता है।आज बन रहा है शुभ संयोग, इस प्रकार कम करे शनिदेव का प्रकोप

उपाय
 – शनिवार के दिन शनिदेव को सरसों के तेल से उनका अभिषेक करें और दीपक जलाएं।
-शनि पुष्य योग पर गरीबों को काली चीजों का दान करने और उन्हें भोजन खिलाएं।
– शनि पुष्य योग पर पीपल के पेड़ पर सुबह जल अर्पित करें और शनि के मंत्रों का 108 बार जप करें।
– इस शुभ योग के मौके पर दो रोटी को तेल में चुपड़कर गाय और काले कुत्ते खिलाएं। ऐसा करने से आपके ऊपर शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव कम होगा।

पुष्य नक्षत्र का महत्व 
ज्योतिष के अनुसार कुल 27 नक्षत्र होते हैं। जिसमें पुष्य नक्षत्र को सभी नक्षत्रों का राजा माना जाता है। इस नक्षत्र में खरीददारी करना शुभ माना जाता है। शास्त्रों के अनुसार पुष्य नक्षत्रों में किए गए काम हमेशा सफल होते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

आज का राशिफल और पंचांग: 24 जुलाई दिन मंगलवार, इन राशी वालों का बनेगा बिगड़ा काम

।।आज का पञ्चाङ्ग।। आप सभी का मंगल हो 24