आज का राशिफल और पंचांग: 20 जून दिन बुधवार, जानें कल क्या करना शुभ होगा

आप सभी का मंगल हो . . .

।। आज का पञ्चाङ्ग – 20 जून दिन बुधवार ।।

ऋतु-ग्रीष्म
माह-ज्येष्ठ
पक्ष-शुक्ल
तिथि-सप्तमी
सूर्य-उत्तरायण
सूर्योदय-05:13
सूर्यास्त-06:47
राहूकाल(अशुभमुहूर्त)-दोपहर 12:30 से 01:30 तक
दिशाशूल-उत्तर
शुभदिशा-दक्षिण
अमृतमुहूर्त-प्रातः 07:09 से 09:53 तक

आज का राशिफल
।। आज का राशिफल ।।

मेष:-
आज आपका दिन मध्यम फलदायी रहेगा। आपका स्वास्थ्य नरम-गरम रह सकता है। संतान के विषय में चिंतित रहेंगे। कार्य में सफलता प्राप्त होगी। भागदौड़ के कारण परिवार के लिए कम समय निकाल पाएंगे, जिस वजह से परिजनों के साथ मनमुटाव हो सकता है।
राशिरत्न:-मूँगा

वृषभ:-
आज आपका दिन मध्यम फलदायी रहेगा। पिता एवं पैतृक संपत्ति से लाभ के योग हैं। आपके प्रति आपके पिता का व्यवहार भी अच्छा रहेगा। कलाकार तथा खिलाड़ियों के लिए आज का दिन बहुत अच्छा है, क्योंकि उन्हें अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर मिलेगा। संतान के पीछे खर्च के योग हैं।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल

मिथुन:-
आज का दिन आपके लिए अच्छा और लाभदायी होगा। मित्र, बंधु-बांधवों एवं पड़ोसियों के साथ आपके संबंध अच्छे रहेंगे। आर्थिक रूप से आज आप सजग रहेंगे। सोच समझकर धन का निवेश करें। विरोधियों को आप परास्त कर पाएंगे। आनंद-उल्लास और भाग्यवृद्धि पूर्ण दिन है।
राशिरत्न:-पन्ना

कर्क:-
आज का दिन मध्यम फलदायी है। स्‍वास्‍थ्‍य में भी गिरावट आ सकती है। दांईं आंख में परेशानी हो सकती है। परिजनों के साथ मनमुटाव हो सकता है। विद्यार्थियों को कड़ी मेहनत करनी होगी। अनैतिक प्रवृत्तियों से दूर रहें। खर्च पर संयम रखें।
राशिरत्न:-मोती

सिंह:-
आज आपका दिन शुभ फलदायी होगा। आप आत्मविश्वास से भरपूर रहेंगे। हर कार्य को दृढ़ निश्चय के साथ संपन्न कर पाएंगे। सरकारी कार्यों में लाभ होगा। पिता और बड़ों का सहयोग मिलेगा। सामाजिक क्षेत्र में मान-सम्मान मिलेगा। पूरा दिन आनंद में बीतेगा।
राशिरत्न:-माणिक्य

कन्या:-
आज आप शारीरिक और मानसिक थकान का अनुभव करेंगे। आज वाद विवाद में न पड़ें। कोर्ट-कचहरी में सावधानी रखें। आकस्मिक धन खर्च होगा। मित्रों के साथ कोई अनबन न हो इसका भी पूर्ण ध्यान रखें। धार्मिक कार्यों के पीछे धन खर्च होगा।
राशिरत्न:-पन्ना

तुला:-
आपका आजका दिन शुभफलदायक और लाभप्रद है। मित्रों के साथ मिलना-जुलना होगा। कुटुंब में आनंद का वातावरण रहेगा। पुत्र और पत्नी से सुख संतोष अनुभव करेंगे। नौकरी व्यवसाय के क्षेत्र में आयवृद्धि होगी। व्यापार में विकास के अवसर मिलेंगे। अविवाहितों के लिए वैवाहिक योग हैं।
राशिरत्न:-हीरा,ओपल

वृश्चिक:-
आज आपके घर में आनंद उल्लास का वातावरण रहेगा। आपका हरेक कार्य सरलता से पूरा होगा। व्यापारियों को व्यापार में अच्छे अवसर मिलेंगे और आयवृद्धि होगी। नौकरी पेशावालों के लिए प्रगति का मार्ग खुलेगा। उच्च पदाधिकारियों तथा बुजुर्ग वर्ग का सहयोग और प्रोत्साहन मिलेगा। मानप्रतिष्ठा में वृद्धि होगी।
राशिरत्न:-मूँगा

धनु:-
आज उत्‍साह का अभाव रहेगा। संतान की समस्या इसका कारण हो सकती है। व्यवसाय और नौकरी में तकलीफ खड़ी होगी। जोखिमी विचार, व्यवहार या आयोजन करने से पहले विचार करने की आवश्यकता है। कार्य में कम सफलता मिलेगी। विरोधी या उच्च अधिकारियों के साथ विवाद में न पड़े।
राशिरत्न:-पुखराज

मकर:-
आज नकारात्मक विचार हावी न होने दें। क्रोध को काबू में रखने से बहुत सी आफतों से बच जाएंगे। अचानक प्रवास करने के संयोग खड़े होंगे। उनके पीछे खर्च करने पड़ेंगे। नए संबंध स्थापित करना हितकर नहीं है। खान-पान पर विशेष ध्यान रखें। अन्यथा स्वास्थ्य खराब होगा। आकस्मिक धन लाभ भी होगा।
राशिरत्न:-नीलम

यह भी पढ़ेंये गुरु सिखाते हैं ऐसा हॉट योगा, देखकर छूट जाते हैं अच्छे-अच्छों के पसीने

कुंभ:-
आपका आज का दिन प्रसन्नतापूर्वक बीतेगा। आपके आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। स्वभाव में मौजीलापन आपको मन से स्फूर्तिमय रखेगा। विपरीत लिंगीय पात्रों के साथ परिचय या प्रणय- रोमांस की संभावना है। लघु पर्यटन होगा। सार्वजनिक जीवन में आपकी प्रतिष्ठा बढ़ेगी।
राशिरत्न:-नीलम

मीन:-
मन की दृढ़ता और आत्मविश्वास आपका कार्य सफल बनाएंगे। परिवार में सुख- शांति और आनंद का वातावरण रहेगा। गुस्से के कारण आपकी वाणी व्यवहार में उग्रता न आए उसका ख्याल रखें। नौकरी में आपका वर्चस्व रहेगा।
राशिरत्न:-पुखराज

।। आज के दिन का विशेषमहत्व ।।
1. आज ग्रीष्मऋतु ज्येष्ठमाह शुक्लपक्ष सप्तमी तिथि बुधवार दिन है।
2. आज विवाह मुहूर्त भी है।

।। प्रेरणा दाई चौपाई ।।
अरुन नयन उर बाहु बिसाला। नील जलज तनु स्याम तमाला।।
कटि पट पीत कसें बर भाथा। रुचिर चाप सायक दुहुँ हाथा।।

अर्थ:-गोस्वामी तुलसीदास जी वर्णन करते है कि प्रभू श्री राम लक्ष्मण जी की आँखे रतनारी हैं वक्ष स्थल चौड़ा है , आजानुबाहु है, नील मेघ के समान दोनों लोगों का शरीर हैं मानो श्याम तमाल का वृक्ष हो, कमर में पीताम्बर धारण किये हुवे है, तुरीण कसे हउवें हैं, हाथों में धनुष और बाण हैं।और धनुष में तांत चढ़ी हुई है जब चाहें तब असुरों के विरुद्ध काम मे लें सकते है।

।। इति शुभम् ।।

।।आचार्य स्वमी विवेकानन्द।।
।।ज्योतिर्विद व सरस् संगीत मय श्रीरामकथा व श्रीमद्भागवत कथा व्यास।।
।।श्रीअयोध्या धाम।।
संपर्क सूत्र-9044741252

Loading...

Check Also

#बड़ा हादसा: बहुमंजिला इमारत में लगी भीषण आग, दो व्यक्तियों की हुई मौत

#बड़ा हादसा: बहुमंजिला इमारत में लगी भीषण आग, दो व्यक्तियों की हुई मौत

देश में पिछले कुछ दिनों में भीषण आग लगने की घटनाएं बहुत तेजी से बढ़ते …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com