Home > राज्य > दिल्ली > आखिर क्यों यूपी की इस VIP सीट से ही क्यों लड़ना चाहते हैं BJP-BSP के कई दिग्गज नेता

आखिर क्यों यूपी की इस VIP सीट से ही क्यों लड़ना चाहते हैं BJP-BSP के कई दिग्गज नेता

पश्चिमी विक्षाेभ के कारण जैसे-जैसे हवाएं ठंडी हाे रही हैं, वैसे-वैसे इसके उलट दिल्ली से सटे यूपी के गौतमबुद्धनगर जिले का राजनीतिक तापमान बढ़ता जा रहा है। सत्ता में हाेने के कारण स्वभाविक है कि सबसे ज्यादा गर्माहट भारतीय जनता पार्टी में महसूस की जा रही है। हालांकि, लोकसभा चुनाव 2019 में छह महीने से भी ज्यादा का समय है लेकिन हर दिन गाैतमबुद्ध नगर लाेकसभा से चुनाव लड़ने की इच्छा रखने वाले भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेताअाें की कतार लंबी हाेती जा रही है। इसमें अब नया नाम जुड़ा है मुजफ्फरनगर के मीरापुर विधानसभा से विधायक व चार बार सांसद रहे अवतार सिंह भड़ाना का।आखिर क्यों यूपी की इस VIP सीट से ही क्यों लड़ना चाहते हैं BJP-BSP के कई दिग्गज नेता

साेमवार रात सेक्टर-61 में एक शादी समाराेह में शामिल हाेने अाने अवतार सिंह भड़ाना ने खुलकर दिल की बात रखी। उन्हाेंने कहा कि वह 2019 का लाेकसभा चुनाव जरूर लड़ेंगे। पहली पसंद फरीदाबाद है। दूसरी पसंद गाैतमबुद्धनगर अाैर तीसरी पसंद मेरठ है।

बता दें कि इससे पहले भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष नवाब सिंह नागर के अलावा चार अन्य बड़े भाजपा नेता भी गाैतमबुद्धनगर लाेकसभा सीट से चुनाव लड़ने के लिए पार्टी में अावेदन कर चुके हैं। इनमें एक पूर्व महानगर अध्यक्ष, एक एमएलसी भी शामिल हैं।

इतना ही नहीं, पिछले दिनाें नाेएडा अाए भाजपा के संगठन महामंत्री सुनील बंसल के पास भी कुछ नेताअाें ने परिक्रमा लगाकर अपनी दावेदारी पेश की है। हालांकि, इन सब के बीच वर्तमान सांसद और केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा शांत हैं। उनका कहना है कि मैं छाेटा कार्यकर्ता हूं। पार्टी काा जाे भी निर्णय हाेगा मान्य है।

बसपा नेताअाें की परिक्रमा करने वाले भी बढ़े

खासतौर से सपा-बसपा-रालोद और कांग्रेस के संभावित महागठबंधन की सुगबुगाहट के बीच गाैतमबुद्ध नगर सीट बसपा के खाते में जाने की चर्चा है। बसपा ने लाेकसभा प्रत्याशी वीरेंद्र डाढ़ा का टिकट भी काट दिया है। इसके बाद से बसपा के बड़े नेताअाें के पास परिक्रमा लगाने वालाें की संख्या बढ़ गई है।

चर्चा है कि भाजपा के एक विधायक बसपा के एक बड़े नेता से दीपावली पर लखनऊ में मिले थे। वहीं, भाजपा से टिकट पाने की इच्छा रखने वाले नेताअाें के भी बसपा सुप्रीमाे मायावती से मुलाकात की चर्चा जाेराें पर है।

वहीं, सोमवार को नाेएडा में शादी समाराेह में अाए अवतार सिंह भड़ाना ने साफ किया कि उनकी बहन जी या उनके करीबी से न ताे काेई मुलाकात हुई और न ही काेई बात हुई है। उनकी बहन जी से मुलाकात की चर्चा पूरी तरह से अफवाह है। हालांकि, बसपा के दिग्गज नेताअाें का मानना है कि महागठबंधन हाेने के बाद गाैतमबुद्दनगर से किसी महिला काे भी चुनाव लड़ाया जा सकता है। इसके लिए ऐसी महिला का चयन हाेगा जिसकी सपा में भी अच्छी पैठ हाे। जिससे दाेनाें पार्टी के कार्यकर्ता एकजुट हाेकर चुनाव लड़ सकें।

दिल्ली से सटी होने के कारण भी गौतमबुद्धनगर लोकसभा सीट को वीआइपी सीट माना जाता है। यहां पर कुल मतदाता 22 लाख हैं, जिनमें 6 लाख शहरी मतदाता हैं। ऐसे में भाजपा के लिए यह मुफीद सीट है। गौतमबुद्धनगर लोकसभा सीट के गठन के बाद भाजपा लगातार दो बार जीत चुकी है। 

इतना ही नहीं, गौतमबुद्ध नगर संसदीय सीट पर यह इकलौता विधानसभा क्षेत्र है जहां बाहरी के मुकाबले स्थानीय कम हैं। इस क्षेत्र से लीड वहीं  उम्मीदवार लेगा, जिसका समर्थन बाहरी मतदाता करेंगे। यहां पर बाहरी और स्थानीय का अनुपात 60:40 का है और इनमें सभी जातियों के लोग हैं। 

Loading...

Check Also

दिल्ली-NCR में झमाझम बारिश से बढ़ी ठंड, पहाड़ी इलाकों में जमकर हुई बर्फबारी

नई दिल्ली : राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार सुबह से हुए सर्दी के एहसास में गुरुवार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com