आंध्र प्रदेश के 18 विधायक हो सकते हैं बीजेपी में शामिल: सुनील देवधर

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की तेलुगू देशम पार्टी पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं. आंध्र प्रदेश के भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) इंचार्ज सुनील देवधर ने दावा किया कि तेलुगू देशम पार्टी (TDP) के 18 विधायक और 30 एमएलसी हमारे संपर्क में हैं.

Loading...

भारतीय जनता पार्टी के महासचिव देवधर ने यह भी कहा कि चंद्रबाबू नायडू दो साल में जेल जाएंगे और राज्य में बीजेपी मुख्य विपक्षी दल की भूमिका में होगा. आंध्र प्रदेश में हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में YSR कांग्रेस पार्टी को बहुमत मिला है. इसके बाद जगन मोहन रेड्डी आंध्र प्रदेश के नए मुख्यमंत्री बने.

रेड्डी ने मुख्यमंत्री बनते ही चंद्रबाबू नायडू और उनके बेटे नारा लोकेश की सुरक्षा में कटौती की. साथ ही चंद्रबाबू नायडू ने सरकार में रहते हुए जिस प्रजा वेदिका बिल्डिंग को बनवाया था, उस पर मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने बुल्डोजर चलवा दिया.

कर्नाटक में कुमारस्वामी की सरकार को खतरा, कांग्रेस-JDS के 11 MLA ने दिया इस्तीफा

इसके अलावा हाल ही में तेलुगू देशम पार्टी के 4 राज्यसभा सांसदों ने भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया. इन सांसदों ने बीजेपी का दामन उस समय थामा जब तेलुगू देशम पार्टी के प्रमुख चंद्रबाबू नायडू अपने परिवार के साथ विदेश में छुट्टियां बिता रहे थे.

तेलुगू देशम पार्टी के जिन चार राज्यसभा सांसदों ने भारतीय जनता पार्टी का दामन थामा, उनमें सीएम रमेश, टीजी वेंटकेश, जी मोहन राव और वाईएस चौधरी शामिल रहे. इन सांसदों की राज्यसभा सदस्यता भी बरकरार है. इन पर दलबदल कानून नहीं लागू हुआ. दलबदल कानून के मुताबिक अगर सदन में किसी पार्टी के दो तिहाई सदस्य दूसरी पार्टी में अपनी पार्टी का विलय करते हैं, तो उनकी सदस्यता नहीं जाती  है.

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *