असम, बिहार में बाढ़ ने ली 150 की जान, पंजाब के 7 जिलों में बाढ़ जैसे हालात

Flood toll in Assam, Bihar crosses 150, flood-like situation in 7 Punjab districts

उत्तर पूर्व भारत और बिहार में भारी मानसूनी बारिश के कारण बाढ़ का कहर लगातार जारी है। असम और बिहार में बाढ़ के कारण मरने वालों की संख्या शनिवार को 150 के पार पहुंच गई। उधर, पंजाब के भी 7 जिलों में जल स्तर बढ़ने से बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। 

Loading...

 

राज्य में अब भी 1.51 लाख हेक्टेयर फसल पानी में डूबी हुई है, जबकि काजीरंगा नेशनल पार्क का अधिकतर हिस्सा पानी में डूबा हुआ है। विश्व हेरिटेज साइट के तौर पर संरक्षित इस पार्क में बाढ़ के कारण 13 जुलाई से अब तक 129 जानवर मारे जा चुके हैं, जिनमें 10 दुर्लभ भारतीय एक सींग वाले गैंडे भी शामिल हैं। इनके अलावा 62 हॉग डियर, 8 सांभर हिरण, 8 भालू, 5 स्वैम्प डियर, दो साही, एक हाथी और एक जंगली भैंस शामिल है। राज्य के 3024 गांवों में 44,08,142 लोगों का जनजीवन अब भी बाढ़ के कारण प्रभावित हैं।

बिहार में 5 और लोग मरे

बिहार में भी शनिवार को बाढ़ के कारण 5 लोगों की मौत हो गई। राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक, अब तक कुल 97 लोगों की बाढ़ के कारण मौत हो चुकी है। शनिवार को चार लोगों की मौत मधुबनी जिले में हुई, जबकि एक अन्य दरभंगा में बाढ़ का शिकार हो गया। मधुबनी में अब तक कुल 18, दरभंगा में 10, सीतामढ़ी में 27 लोग बाढ़ के शिकार हुए हैं। शनिवार को उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने सीतामढ़ का दौरा कर राहत कार्यों का निरीक्षण किया। बिहार के कुल 12 जिले बाढ़ के कारण प्रभावित हुए हैं। इनमें से अधिकतर में बाढ़ का कारण पड़ोसी देश नेपाल में हुई भारी बारिश को माना जा रहा है।

केरल में भारी बारिश से तमिलनाडु में 2 मरे, चार लापता 

केरल में चल रही भारी बारिश के कारण तमिलनाडु में शनिवार को 2 लोगों की मौत हो गई, जबकि 3 मछुआरों समेत 4 लोग लापता हैं। कसारगौड़ जिले के कुदुले में शनिवार को 30 सेंटीमीटर से ज्यादा बारिश दर्ज की गई।

पंजाब-हरियाणा में भारी बारिश

पंजाब और हरियाणा के अधिकतर क्षेत्रों में शनिवार को भारी बारिश दर्ज की गई, जिससे तापमान सामान्य से 3 अंक तक नीचे आ गया है। करनाल में 58.2 मिलीमीटर और अमृतसर में 13 मिलीमीटर बारिश हुई। चंडीगढ़ में 2 मिलीमीटर बारिश आंकी गई। पंजाब की घग्गर नदी में उफान के कारण सात जिलों में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं और कपास व धान की फसल को खतरा पैदा हो गया है। 

हिमाचल में येलो वार्निंग

मौसम विभाग ने हिमाचल प्रदेश के मैदानी व निचले पहाड़ी क्षेत्रों में 24 जुलाई के लिए भारी बारिश की येलो वार्निंग जारी की है। 26 जुलाई तक राज्य में भारी मानसूनी बारिश के हालात बने रह सकते हैं। शनिवार को भी शिमला के मशोबरा में 26 मिलीमीटर बारिश समेत कई इलाकों में अच्छी वर्षा दर्ज की गई। 

पूर्वी व मध्य यूपी में सूखा मौसम

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में सूखा मौसम जोर पकड़ रहा है। हालांकि मौसम विभाग के अधिकारियों ने अगले सप्ताह राज्य के कई हिस्सों में बारिश की संभावना जताई है। पश्चिमी यूपी में 22 और 23 जुलाई को विभिन्न स्थानों पर अच्छी वर्षा हो सकती है। शनिवार को सुल्तानपुर में 15 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई, जबकि अलीगढ़ में भी हल्की वर्षा रही। राज्य का सबसे गर्म जिला बांदा रहा, जहां अधिकतम तापमान 39 डिग्री दर्ज किया गया।

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com