अमर सिंह ने कहा- बकरे की तरह रामपुर आया हूँ, आजम ले लें मेरी कुर्बानी

रामपुर। रामपुर में राज्यसभा सदस्य अमर सिंह ने आजम खां पर उनके शहर में ही जमकर निशाना साधा। बोले, हिंदू एकजुट नहीं है, अगर एक हो गया और कुंभकर्णी नींद से जाग गया तो आजम को रसगुल्ले की तरह निगल जाएगा। आजम का तीखे बयान वाला वीडियो दिखाते हुए बोले ‘कुर्बानी-कुर्बानी आजम को प्यारी है कुर्बानी। आजम हम तुम्हारे घर कुर्बानी के बकरे की तरह आए हैं, हमारी कुर्बानी ले लो, हमारा कत्ल कर दो, तुम्हारे पास बहुत गुंडे हैं, पकड़कर ले जाओ, लेकिन हमारी बेटियों को बख्श दो, उन पर तेजाब मत डालो’।

अमर सिंह गुरुवार को लोक निर्माण विभाग के निरीक्षण भवन में पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे। बोले, ‘आजम ने मुझे और मुझ जैसे लोगों को मार डालने, मेरे परिवार को काट डालने और बेटियों पर तेजाब डालने की बात कही है, लेकिन अब वह अपनी बात से मुकर रहे हैं। बयान देने के बाद मुकरने के मामले में आजम को मैं डॉक्टर कहूंगा। उन्होंने सारे हिंदू समाज का अपमान किया है। इस पर सरकार को संज्ञान लेते हुए कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हिंदुत्व एक सभ्यता है, जो राष्ट्रवादी लोग हैं, वो उस सभ्यता को मानते हैं, चाहें हिंदू हों या मुसलमान।

वीर अब्दुल हमीद, मौलाना अबुल कलाम आजाद, अशफाक उल्ला खां ने देश के लिए बहुत कुछ किया है, हम इनका सम्मान करते हैं। सर सैयद ने भी बड़ा काम किया है, उन्हें भी भारत रत्न मिलना चाहिए’। पुराना है दोनों का सियासी टकराव दरअसल, आजम खां और अमर सिंह ने पुराना सियासी टकराव है। जब अमर सिंह सपा में थे, तभी से दोनों में नहीं बनती थी। दोनों एक-दूसरे के विरोधी थे। इसके पीछे रामपुर से सांसद रहीं जया प्रदा मुख्य किरदार हैं। आजम खां नहीं चाहते थे कि जयाप्रदा रामपुर से आकर चुनाव लड़ें, जबकि अमर सिंह जयप्रदा को रामपुर से चुनाव लड़ाने पर अड़ जाते थे।

आजम पाकिस्तान चले जाएं अमर सिंह ने कहा कि आजम हिंदुस्तान में रहते हैं, लेकिन पाकिस्तान की बात करते हैं। कभी वे भारत मां को डायन कहते हैं तो कभी कश्मीर को भारत का हिस्सा नहीं मानते, हमारे प्रधानमंत्री को भी आतंकवादी कहते हैं। अगर उन्हें पाकिस्तान से इतना प्यार है तो वे बेशक पाकिस्तान चले जाएं। आजम अब दंगे रोकने की बात कह रहे हैं, जब वह मंत्री थे तब मुजफ्फरनगर में इतने मुसलमान मारे गए, जितने गुजरात में भी नहीं मारे गए थे।

आजम के कड़वे बोल के लिए मुलायम-अखिलेश जिम्मेदार अमर सिंह ने कहा कि आजम जो कड़वे बोल बोलते हैं, उसके लिए मुलायम सिंह यादव और अखिलेश भी जिम्मेदार हैं। इन लोगों ने इनकी जुबान पर लगाम नहीं लगाई। बोले, अब सपा के दो टुकड़े हो गए हैं। अब्दुल्ला बीच में नहीं पड़ें अमर सिंह ने कहा कि आजम के बेटे अब्दुल्ला बड़ों के बीच में न पड़ें। अभी उनके दूध के दांत भी नहीं टूटे हैं, वह अपने फर्जी पैन कार्ड के बारे में सोचें। दो-दो पैन कार्ड बनवा रखे हैं। वह चाहें मंत्री बनें या अखिलेश को हटाकर मुख्यमंत्री, हमें कोई ऐतराज नहीं। हम आजम की पत्नी की भी इज्जत करते हैं और सभी महिलाओं की इज्जत करते हैं, लेकिन सपा में महिलाओं की इज्जत नहीं की जाती।

पहले आजम ने जया प्रदा को नाचने वाली कहा और फिर नरेश अग्रवाल ने जया बच्चन को। उन्होंने कहा कि जया प्रदा के साथ आजम ने रामपुर में बहुत बुरा सुलूक किया। जयाप्रदा रिपोर्ट करा दें तो आजम तुरंत जेल चले जाएंगे। जया प्रदा के रामपुर से लोकसभा का चुनाव लड़ने के सवाल पर बोले, अभी हम कुछ नहीं कह सकते। पत्रकार वार्ता में मारपीट, तोड़फोड़ राज्यसभा सदस्य अमर सिंह की पत्रकार वार्ता में पत्रकार आपस में ही भिड़ गए। दो पक्षों में मारपीट और तोड़फोड़ हुई।

अमर सिंह मीडिया से बात कर रहे थे, इसी दौरान एक स्थानीय पत्रकार ने कहा कि आप आजम के नाम के साथ खान लगाते हैं, वह पठान नहीं हैं, सलमानी हैं। उनके नाम के साथ खान लगने से पठानों की बेइज्जती हो रही है। इतना सुनते ही कुछ पत्रकार नाराज हो गए और विरोध शुरू कर दिया। पहले गाली-गलौज और फिर हाथापाई शुरू हो गई। इसके बाद हंगामा और तोड़फोड़ हुई। मेज तोड़ दी और दरवाजा उखाड़ दिया। हंगामा बढ़ते देख, सुरक्षा कर्मी सक्रिय हो गए और अमर सिंह को दूसरे कमरे में ले गए। इसके बाद पुलिस ने हंगामा शांत किया। इसके बाद अमर सिंह लॉन में आए और बोले, झगड़ा करने वाले पत्रकार थे। एक आजम को खान कहने पर आपत्ति जता रहे थे तो दूसरे उनका विरोध कर रहे थे, इसी बात पर झगड़ा हुआ।

आजम खान को ‘खां साहब’ कहने पर अमर सिंह की प्रेस कांफ्रेंस में हंगामा

प्रेस कांफ्रेंस के दौरान अमर सिंह ने अपनी बात रखनी शुरू की। आजम खान को खां साहब कहकर संबोधित करना शुरू किया। इस दौरान वहां पत्रकारों के बीच खड़े एक शख्स ने खां साहब कहने पर आपत्ति जताई। आजम खान को चुनौती देने आज दिन में रामपुर पहुंचे अमर सिंह की प्रेस कांफ्रेंस में जमकर हंगामा हुआ। इस दौरान कुर्सियां फेंकी गईं, मेज तोड़ दी गईं। इसके बाद अमर सिंह को प्रेस कांफ्रेंस को बीच में ही छोड़कर अमर सिंह को जाना पड़ा। दरअसल प्रेस कांफ्रेंस के दौरान अमर सिंह ने अपनी बात रखनी शुरू की और आजम खान को खां साहब कहकर संबोधित करना शुरू किया। इस दौरान वहां पत्रकारों के बीच खड़े एक शख्स ने खां साहब कहने पर आपत्ति जताई। इसके बाद अमर सिंह के समर्थक और उस शख्स के बीच तीखी नोंक झोंक शुरू हो गई। इसके बाद देखते ही देखते प्रेस वहां कांफ्रेंस में अफरातफरी का माहौल हो गया। वहां कुछ लोगों ने मेज और कुर्सियां भी फेंकीं, जिसमें किसी के चोटिल होने की खबर नहीं है। इस दौरान हंगामा बढ़ता देख अमर सिंह वहां से निकल गए।

बन गया माहौल 

समाजवादी पार्टी के फायरब्रांड नेता आजम खां के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले राज्यसभा सदस्य अमर सिंह के रामपुर पहुंचने से ही वहां पर माहौल बन गया। आज यहां हिंदू युवा वाहिनी भारत के सदस्यों ने पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस पहुंचकर आजम खां के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया। अमर सिंह के समर्थन में पहुंचे इन लोगों ने जय श्री राम, जो राजपूतों से टकराएगा चूर चूर हो जाएगा, ठाकुर अमर सिंह के सम्मान में राजपूत मैदान में, माता की जय, आजम खां मुरदाबाद आदि नारे लगाए। संगठन के प्रदेश अध्यक्ष शोकेन्द्र खोखर ने कहा कि आजम खां ने बेटियों का अपमान किया है। इसे किसी हाल में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

इसका जवाब पत्थर से दिया जाएगा। आजम खां के गढ़ रामपुर में आज अमर सिंह ने आगमन से पहले यहां पर पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस में बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स को तैनात किया गया। यहां तीन इंस्पेक्टर, दस दारोगा और 20 सिपाहियों को तैनात किया गया है। इन सभी के साथ ही राज्यसभा सदस्य अमर सिंह को जेड श्रेणी की सुरक्षा प्राप्त है। पुलिस इसको लेकर सतर्क है कि कहीं समाजवादी पार्टी की ओर से अमर सिंह कोई विरोध ना हो जाए।

अमर सिंह ने मंगलवार को लखनऊ में प्रेस कॉफ्रेंस कर 30 अगस्त को रामपुर आने का ऐलान किया था। उन्होंने लखनऊ में कहा था कि मैं 30 रामपुर आ रहा हूं, आजम खां मेरी कुर्बानी ले लें। इन दिनों अमर सिंह ने पूर्व मंत्री आजम खां के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। आजम खां के एक बयान को लेकर वह उन पर निशाना साध रहे हैं। आजम खां इसको लेकर अपनी सफाई दे चुके हैं। उनका कहना है कि उन्होंने सांसद अमर सिंह और उनकी बेटियों को लेकर कोई बात नहीं कही है। 

Loading...

Check Also

उदयपुर में ईशा अंबानी के प्री-वेडिंग की तैयारियांं शुरू

उदयपुर में ईशा अंबानी के प्री-वेडिंग की तैयारियांं शुरू

एशिया के सबसे अमीर उद्यमी उद्योगपति मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी की शादी 12 दिसम्बर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com