अमरिंदर बोले, पाक के सिख युवाओं को प्रशिक्षण देने की बात कौन सी नई बात है?

- in पंजाब, राज्य

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने पाकिस्‍तान में सिख यु‍वकों काे भारत में आतंकी हमले के लिए तैयार करने के खुलासे पर कहा कि इसमें काेई नई बात नहीं है। वह बरसों से एेसी हरकतें कर रहा है। पाकिस्‍तान और आइएसआइ गैंगस्‍टरों और अलगावादियों को बढ़ावा देता रहा है। वह इनको प्रशिक्षण सहित अन्‍य मदद कर रहा है।

अमरिंदर बोले, पाक के सिख युवाओं को प्रशिक्षण देने की बात कौन सी नई बात है?यहां विधानसभा परिसर में पत्रकारों से बातचीत में कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने कहा, इस में नया क्या है? यह काफी समय से हो रहा है। उन्‍होंने पत्रकारों से पूछा, आपको क्‍या लगता है कि पंजाब मेें गैगस्‍टरों को समर्थन और मदद कौन करता है? यह काम पाकिस्तान आैर उसका खुुफिया एजेंसी आइएसआइ कर रही है।

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह इस संबंध में छपी रिपोर्टों पर प्रतिक्रिया दे रहे थे। इन रिपोर्टों में कहा गया है कि पाकिस्‍तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ सोशल मी‍डिया के जरिये भारत खासकर पंजाब में आतंकवाद के लिए सिख युवाओं की भर्ती कर रहा है। इस संबंध में सरकार रिपोर्ट में भी कहा गया है कि आइएसआइ भारत में आ‍तंकी हमले के लिए सिख युवकों को प्रशिक्षण दे रहा है।

 

रिपोटर् में कहा गया है कि अाइएसआइ कनाडा सहित अन्‍य देशों में रह रहे सिख युवाओं को भी पूरी साजिश के तहत भारत के खिलाफ भड़का रही है। इसके लिए वह इंटरनेट और सोशल मीडिया का भी गलत इस्‍तेमाल कर रहा है। रिपोर्ट इसे चिंताजनक हालत बताया गया है।

बता दें कि मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने पहले भी कहा था‍ कि पाकिस्‍तान सिख युवाओं को बरगला रहा है। वह पंजाब में सक्रिय गैंगस्‍टरों और राज्‍य विदेश में रह रहे सिख अलगावादियों को मदद दे रहा है। पाकिस्‍तान कनाडा और अन्‍य देशों में रह रहे अलगाववादियों को भड़का कर भारत व पंजाब में अशांति पैदा करना चाहता है।

इसी मामले को उठाते हुए कुछ माह पहले कैप्‍टन ने कनाडा के रक्षामंत्री हरजीत सिंह सज्‍जन के पंजाब आने पर उनसे मिलने से इन्‍कार कर दिया था। उन्‍होंने पिछले दिनों भारत दौरे के दौरान पंजाब आए कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रुडो के समक्ष भी कनाडा से भारत के खिलाफ चलाई जा रही अलगाववादी गतिविधियों का मुद्दा उठाया था।

You may also like

उत्तर प्रदेश सरकार चीनी मिलों को दिलवाएगी 4,000 करोड़ रुपये का सस्ता कर्ज

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य की चीनी मिलों