अभी-अभी: CBSE का बड़ा ऐलान- हेल्थ और फिजिकल एजुकेशन को किया अनिवार्य

- in करियर

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने हेल्थ एंड फिजिकल एजुकेशन प्रोग्राम को कक्षा 9वीं से 12वीं तक के लिए अनिवार्य कर दिया है. सेशन 2018-19 से मेनस्ट्रीम विषयों की तरह ही इस विषय को भी पढ़ाया जाएगा. इसका सिलेबस भी सीबीएसई द्वारा तैयार किया जाएगा.

अभी-अभी: CBSE का बड़ा ऐलान- हेल्थ और फिजिकल एजुकेशन को किया अनिवार्यबोर्ड की ओर से जारी किए गए सर्कुलर में निर्देश दिए गए हैं कि बच्चों के मानसिक और शारीरिक विकास को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया गया है. इसके अलावा इन विषयों की कक्षाएं रेगुलर चलेंगी. बता दें, पहले फिजिकल एजुकेशन कक्षाएं ऑप्शनल होती लेकिन नए सत्र से 9वीं से 12वीं के छात्रों को इन विषयों की कक्षाएं लेनी होगी.

सीबीएसई ने स्कूलों को दिए निर्देश

बोर्ड की ओर से निर्देश दिए गए हैं कि सीबीएसई के सभी स्कूलों में इन विषयों को इसी सेशन से पढ़ाना अनिवार्य होगा. इसलिए स्कूल इन विषयों के हिसाब से अपना टाइम टेबल बनाएं. सीबीएससी ने कहा कि स्कूल में हमेशा एक पीरियड फिजिकल एजुकेशन और हेल्थ का शामिल करना जरूरी है.

आपको बता दें, ये फिजिकल एजुकेशन पहले 11वीं और 12वीं के छात्रों के लिए ऑप्शन के तौर पर होता था. लेकिन सीबीएसई के ऐलान के बाद विषय हेल्थ एंड फिजिकल एजुकेशन को अब बोर्ड की ओर से अनिवार्य कर दिया गया है. इसके साथ ही कक्षा 9वीं और 10वीं के लिए भी ये अनिवार्य है.

You may also like

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान में कोच पद पर भर्ती, आवेदन के लिए 4 दिन शेष

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रोपड़ को पार्ट टाइम स्पोर्ट्स कोच