अभी-अभी: यूपी में मचा कोहराम, SP दफ्तर पर लोगो ने किया कब्जा

बीते कई दिनों से यूपी की सत्ताधारी पार्टी में कोहराम मचा हुआ है। कभी किसी नेता को पार्टी से बाहर निकाला जाता है तो कभी किसी नेता को। अभी-अभी आ रही खबरों के मुताबिक, समाजवादी पार्टी दफ्तर पर कब्जा करने की कोशिश की जा रही है। ये बात खुद मुलायम समर्थक रघुनंनद काका ने कही है। उन्होंने कहा कि सपा के दफ्तर पर कोशिश की जा रही है। बकौल रघुनंनद अगर सपा के दफ्तर पर कोशिश की गई तो वो एफआईआर करेंगे।

अभी अभी: नए साल पर SBI ने दिया बड़ा तोहफा, ख़ुशी से उछल पड़ेंगें आपवहीं, यूपी का नया अध्यक्ष नरेश उत्तम को बनाया गया है। उत्तम अपने समर्थकों के साथ सपा के कार्यालय पहुंच चुके हैं। दूसरी तरफ अखिलेश समर्थकों की पुलिस के साथ लगातार झड़प चल रही हैं।

इससे पहले, समाजवादी पार्टी के विशेष राष्ट्रीय अधिवेशन में सर्वसम्मति से अखिलेश यादव को राष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिया गया है। इसके
साथ ही प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव को प्रदेश अध्यक्ष पद से हटा दिया गया है। राज्य सभा सांसद अमर सिंह को पार्टी से बाहर कर दिया गया है। इससे पहले पार्टी महासचिव रामगोपाल यादव ने अधिवेशन में प्रस्ताव पेश किया। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव को पार्टी का मार्गदर्शक बनाया गया है।
राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद अधिवेशन को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि मैं नेताजी का सम्मान करता था, करता हूं और ताउम्र करता रहूंगा। उन्होंने कहा कि वो मेरे पिताजी हैं और पिताजी रहेंगे। इसे कोई झुठला नहीं सकता। उन्होंने कहा कि जो भी मेरे पिताजी के खिलाफ काम करेगा उसे छोड़ूंगा नहीं। अखिलेश ने कहा, “यूपी में सपा की सरकार बनाने के लिए हर वर्ग का समर्थन प्राप्त है लेकिन कुछ लोग चाहते हैं कि हमारी सरकार नहीं बने। इसलिए यह कार्रवाई आवश्यक हो गई थी।”
परिवार और पार्टी के मुद्दे पर अखिलेश यादव ने कहा- अगर मुझे परिवार को बचाना होगा तो उसे भी बचाऊंगा और पार्टी को बचाना होगा तो उसे भी बचाऊंगा। मैं किसी भी तरह की जिम्मेदारी उठाने से कभी भी पीछे नहीं हटूंगा। अधिवेशन में आए तमाम कार्यकर्ताओं का अखिलेश यादव ने शुक्रिया अदा किया और उन्हें धन्यवाद किया। उन्होंने सभी लोगों को नए साल की मुबारकबाद भी दी।
लाइवइंडिया.लाइव से साभार…
loading...
=>

You may also like

CM योगी आदित्यनाथ ने किया बड़ा खुलासा: बोले- रविशंकर अयोध्या विवाद में पक्षकार नहीं…

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खुलासा किया