अभी-अभी: पीएम मोदी ने किया यूपी इन्वेस्टर्स समिट का उद्घाटन, 5000 उद्योगपति होंगे शामिल

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार राज्य में निवेश और बेहतर कारोबार के इरादे से इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन कर रही है. बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लखनऊ में दो दिवसीय यूपी इन्वेस्टर्स समिट का उद्घाटन किया. इस समिट में मुकेश अंबानी, रतन टाटा, गौतम अडानी समेत देश के 5000 बड़े उद्योगपति समेत दुनिया के कई देशों के प्रतिनिधि भी शामिल हो रहे हैं.

 योगी सरकार के सत्ता में एक साल पूरा होने से ठीक पहले आयोजित हो रहे इस समिट पर देशभर की नज़रें टिकी हैं. इस कार्यक्रम में गृहमंत्री राजनाथ सिंह, राज्यपाल रामनाइक समेत कई दिग्गज नेता शामिल हो रहे हैं.

माना जा रहा है कि 2 दिन के इस आयोजन में करीब 3 लाख करोड़ रुपये के एमओयू (MoU) साइन होंगे. गुजरात मॉडल के वाइब्रेंट गुजरात की तर्ज पर योगी सरकार ने इन्वेस्टर्स समिट का सपना देखा है.

समिट में दुनिया के 9 देशों के प्रतिनिधियों के अलावा देशभर के तमाम बड़े उद्योगपति भी इसमें शिरकत कर रहे हैं. समिट में 18 केंद्रीय मंत्रियों के भी शामिल होने की संभावना है. इस समिट में जापान, नीदरलैंड व मॉरीशस समेत सात देश कंट्री पार्टनर के रूप में भाग लेंगे.

लखनऊ की जोरदार सजावट

शानदार आयोजन के लिए राजधानी लखनऊ को दुल्हन की तरह सजाया गया है. पूरे शहर के चप्पे-चप्पे पर इन्वेस्टर्स समिट की तैयारियां दिखाई दे रही है. बड़े-बड़े होर्डिंग्स और बैनर लगे हुए हैं. एयरपोर्ट से लेकर इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान तक तकरीबन 25 किलोमीटर के रास्ते को बेहतरीन तरीके से सजाया गया है.

 

पार्कों का किया गया रंग-रोगन

साफ-सफाई का खास इंतजाम किया जा गया है. मायावती के बनाए तमाम पार्क को फिर से रंग-रोगन किया गया और नए तरीके से सजाया गया है ताकि शहर में आने वाले उद्योगपतियों को लुभाया जा सके.

PM के बाद राष्ट्रपति भी आएंगे

सुरक्षा व्यवस्था पर एडीजी (कानून-व्यवस्था) आनंद कुमार ने बताया कि एयरपोर्ट पर वीवीआईपी सुरक्षा के साथ-साथ बड़े उद्योगपतियों के चार्टर्ड प्लेन के लिए अलग से तैयारी की जा रही है. सभी अतिथियों के मंगलवार देर शाम या फिर बुधवार सुबह पहुंचने की संभावना है.

उनके मुताबिक यह पहला मौका है जब उत्तर प्रदेश में इतने बड़े समिट का आयोजित हो रहा है, जिसमें शुरुआती दिन पहले प्रधानमंत्री और दूसरे दिन राष्ट्रपति शिरकत करेंगे. ऐसे में सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की गई है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी इस समिट की तैयारियों को लेकर निजी तौर पर दिलचस्पी ले रहे हैं ताकि राज्य में बड़ी संख्या में निवेश आ सके. उन्होंने कहा कि 2 दिनों के समिट में 14 सत्र रखे गए हैं और इन सभी सत्र में यूपी में होने वाले निवेश पर चर्चा होगी और कई एमओयू पर साइन किए जाएंगे.

You may also like

इमरान खान का मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- ‘भारत के अहंकारी और नकारात्‍मक जवाब से निराश हूं’

पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार को नरेंद्र