अभी-अभी: तुर्की विमानों का सीरिया के सरकारी बलों पर हमला, 36 मरे

बेरुत। तुर्की के लड़ाकू विमानों ने सीरिया के उत्तर-पश्चिमी आफ्रीन इलाके में सीरियाई सरकार समर्थित बलों पर हमला किया जिसमें कम से कम 36 लोग मारे गए। सीरिसरई ऑब्जर्वेट्री फॉर ह्यूमन राइट्स ने बताया कि यह हमला कल किया गया। कुर्दिश वाईपीजी मिलिशिया के समर्थन में सीरियाई सरकार समर्थित बलों ने गत सप्ताह आफ्रीन इलाके में प्रवेश किया था। तुर्की और उसकी सहयोगी सीरियाई विद्रोही लड़ाकों ने जनवरी से ही उस इलाके में अभियान चला रखा है।

ऑब्जर्वेट्री के मुताबिक तुर्की के हवाई हमले ने काफ्र जीना शिविर को अपना निशाना बनाया। तुर्की विमानों ने पिछले 48 घंटे के दौरान तीसरी बार आफ्रीन में सरकार समर्थित सुरक्षा बलों को निशाना बनाया। तुर्की के प्रधानमंत्री बिन अली यलदरम ने कहा कि उनके देश की सेना ने आतंकवादियों से राजो शहर को मुक्त करा लिया है।

ऑब्ज़र्वेटरी ने कहा कि तुर्की सेना का आफ्रीन शहर के करीब 25 किमी उत्तर-पश्चिम में स्थित राजो शहर के लगभग 70 प्रतिशत हिस्से पर नियंत्रण हो चुका है। तुर्की वाईपीजी को कुर्दिस्तान वर्कस पार्टी (पीकेके) के विस्तार के रूप में देखता है। इस संगठन ने तुर्की में तीन दशक तक आतंकवाद की लड़ाई में शामिल रहा है और अमेरिका, यूरोपीय संघ और तुर्की ने इसे आतंकवादी संगठन घोषित कर रखा है।आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट के विरुद्ध लड़ाई में वाईपीजी अमेरिका का महत्वपूर्ण सहयोगी रहा है।

You may also like

रूस से एस-400 मिसाइल की खरीद पर अमेरिका नाराज, भारत पर लगाएगा प्रतिबंध!

अमेरिका के ट्रंप प्रशासन ने कहा है कि भारत का