नई दिल्ली : सरकारी बंगले में तोड़फोड़ का आरोप झेल रहे उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी अखिलेश यादव ने शनिवार को कहा कि वह अपने नए घर से मीडिया को दूर रखेंगे। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सरकारी आवास खाली करने के बाद जिस तरह से मीडिया ने उनके घर में हुई तोड़फोड़ की कवरेज की, उससे नाराज पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि वह ऑफिशली अपने नए घर में शिफ्ट हो गए हैं, लेकिन वह कभी मीडिया को वहां नहीं बुलाएगें।अभी अभी : अखिलेश यादव ने कहा- नहीं दिखाऊंगा मीडिया को अपना नया घर

शनिवार को अखिलेश ने मीडिया से कहा, ‘आप कहते कुछ हैं, दिखाते कुछ और हैं।’ गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पूर्व मुख्यमंत्री के तौर पर अलॉट सरकारी बंगला खाली करने के बाद अखिलेश कुछ दिन वीवीआईपी गेस्ट हाउस में रहे थे। अब वह सुशांत गोल्फ सिटी के एक विला में शिफ्ट हो गए हैं।

ईद समारोह में शामिल होने ईदगाह पहुंचे अखिलेश ने बीजेपी के ‘संपर्क फॉर समर्थन’ अभियान पर भी तंज कसा। उन्होंने कहा, ‘बीजेपी की मोदी सरकार ने पिछले चार साल में कुछ नहीं किया है। इसलिए अब उनके पास लोगों के दरवादे खटखटाने के अलावा कोई रास्ता नहीं बचा है।’

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार भी खोखले वादे करने पिछली सरकार द्वारा लॉन्च किए गए प्रॉजेक्ट्स का उद्घाटन करने में व्यस्त है। उन्होंने कहा, ‘मेरी इच्छा थी कि जिन योजनाओं का वे फीता काट रहे हैं, उसका थोड़ा क्रेडिट हमें भी दिया जाए।