अब 10वीं और 12वीं के समकक्ष होगा ‘ITI’ सर्टिफिकेट, बनेगा अलग बोर्ड

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने केंद्रीय कौशल विकास मंत्री राजीव प्रताप रूडी की आईटीआई संस्थानों के लिए अलग बोर्ड बनाने की मांग को मंजूरी दे दी है। नेशनल काउंसिल फोर वोकेशनल ट्रेनिंग(NCVT) के लिए बनने वाला शिक्षा बोर्ड सीबीएसई और आईसीएसई की तर्ज पर बनेगा।अब 10वीं और 12वीं के समकक्ष होगा 'ITI' सर्टिफिकेट, बनेगा अलग बोर्ड

सरकार आईटीआई संस्थानों में पढ़ने वाले बच्चों की शिक्षा में  सुधार के लिए ये कदम उठा रही है। साथ ही ये भी बताया गया है कि इस बोर्ड के तहत मिलने वाले आईटीआई सर्टिफिकेट की वैल्यू 10वीं और 12वीं बोर्ड की तरह ही मान्य होगा। देशभर के आईटीआई संस्थानों में शिक्षा के गिरते स्तर पर विचार करते हुए दोनों मंत्रालयों ने शिक्षा बोर्ड बनाने का फैसला लिया है। अब बाकी कॉलेजों की तर्ज पर ही आईटीआई कॉलेजों में भी पढ़ाई होगी। 

आईटीआई/सांकेतिकPC: source

एक सवाल के जवाब में कौशल विकास मंत्री रूडी ने कहा कि सरकार देशभर में बुनियादी ढांचे और ट्रेनिंग की खराब स्थिति को स्वीकार करती है। इसीलिए अब गुणवत्ता में सुधार पर कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने ये भी बताया कि बोर्ड आईटीआई की परीक्षाओं का संचालन करेगा साथ ही पास होने वाले छात्रों को सर्टिफिकेट भी जारी करेगा और ये सर्टिफिकेट 10वीं और 12वीं बोर्ड सर्टिफिकेट के बराबर माना जाएगा। 

सनद रहे यह बोर्ड मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधीन नहीं अपितु कौशल विकास मंत्रालय के अधीन रहेगा। पिछले कुछ समय से उड़ रही अफवाह पर भी लगाम लगाते हुए उन्होंने बतया कि नाईट शेल्टर होम में कौशल विकास केंद्र खोलने की कोई योजना नहीं है। 

News-Portal-Designing-Service-in-Lucknow-Allahabad-Kanpur-Ayodhya
Back to top button