अब नहीं लूट सकेंगी हेली कंपनिया, इतने में होगी केदारनाथ की हवार्इ सेवा

- in उत्तराखंड, राज्य

देहरादून: केदारनाथ धाम के लिए हेलीकॉप्टर शटल सेवा में अब यात्रियों से अधिक किराये की वसूली नहीं की जा सकेगी। सरकार ने सेवा प्रदाता कपंनियों और किराये का निर्धारण करने के साथ ही अपर मुख्य सचिव नागरिक उड्डयन विभाग में शिकायत निवारण प्रकोष्ठ भी गठित कर दिया है। अब नहीं लूट सकेंगी हेली कंपनिया, इतने में होगी केदारनाथ की हवार्इ सेवा

केदारनाथ धाम के लिए रुद्रप्रयाग जिले की मंदाकिनी घाटी के गुप्तकाशी, फाटा और सिरसी हेलीपैड से हेलीकॉप्टर शटल सेवा को लेकर यात्रियों को अब परेशान नहीं होना पड़ेगा। निर्धारित से अधिक किराया वसूल किए जाने पर सीधे शिकायत किए जाने की व्यवस्था की गई है। अपर मुख्य सचिव नागरिक उड्डयन ओमप्रकाश ने बताया कि किसी निजी सेवा प्रदाता कंपनी एवं उनके एजेंट या अन्य कोई भी व्यक्ति केदारनाथ धाम को संचालित हेलीकॉप्टर सेवा के लिए निर्धारित दर से अधिक वसूल करता है तो इसकी शिकायत सीधे उनके कार्यालय में कर सकते हैं। 

प्रकोष्ठ से संबंधित ई-मेल आइडी और दूरभाष नंबर भी उपभोक्ताओं के लिए जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि गुप्तकाशी से केदारनाथ के लिए ऐरो ट्रांस भारत व आर्यन एविएशन, फाटा से केदारनाथ के लिए पवन हंस, यूटी एयर व पिनॉकल एविएशन, सिरसी से केदारनाथ के लिए हिमालयन हेरिटेज एवं ग्लोबल वैक्ट्रा एविएशन सेवाएं प्रदान करेंगी। इन यात्राओं के लिए 70 फीसद बुकिंग ऑनलाइन होगी, जबकि 30 फीसद टिकट बुकिंग रखी गई है।

केदारनाथ के लिए ये निर्धारित है किराया 

हेली सेवा, किराया (रुपये में) 

गुप्तकाशी-केदारनाथ, 7300

फाटा-केदारनाथ, 6700 

सिरसी-केदारनाथ, 6350

=>
=>
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

#बड़ा हादसा: बदरीनाथ जाते समय यात्रियों से भरा ट्रेपों पलटा, कई लोग गंभीर रूप से घायल

शुक्रवार सुबह उत्तराखंड के चमोली जिले में हादसा