अब अनुप्रिया पटेल भी मिलीं अमित शाह से, खत्म हुई नाराजगी!

राज्यसभा चुनाव से ऐन पहले यूपी में बीजेपी के सहयोगी दलों के बागी तेवर को देखते हुए पार्टी आलाकमान अब उन्हें मनाने में जुट गई है. पहले राज्य सरकार में मंत्री ओपी राजभर बागी हो गए थे और उनके बाद ‘अपना दल’ पार्टी भी नाराज बताई जा रही थी.

दिल्ली में मंगलवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के साथ बैठक के बाद योगी सरकार में मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर की नाराजगी खत्म हो गई और उन्होंने बीजेपी के राज्यसभा उम्मीदवारों को अपना समर्थन देने का ऐलान किया. हालांकि अब राजभर और मुख्यमंत्री योगी के बीच जिन मुद्दों को लेकर मतभेद बरकरार हैं उस पर लखनऊ में सुलह होगी.

अनुप्रिया की मुलाकात

राजभर के बाद अब बुधवार को केंद्रीय मंत्री और ‘अपना दल’ की अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल ने अमित शाह से संसद भवन में संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार के ऑफिस में मुलाकात की.

मुलाकात में अनुप्रिया पटेल ने योगी सरकार के मंत्रियों से अपने विधायकों की शिकायत बारे में अमित शाह को अवगत कराया. अमित शाह ने उन्हें भरोसा दिलाया कि उनके विधायकों की शिकायतों को दूर किया जाएगा।

शाह 10 अप्रैल को अपने यूपी दौरे के दरमियान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, दोनों उपमुख्यमंत्रियों (केशव प्रसाद मौर्या और दिनेश शर्मा), यूपी बीजेपी अध्यक्ष महेन्द्रनाथ पांडेय और संगठन मंत्री सुनील बंसल और यूपी के एनडीए की सहयोगियों के साथ मीटिंग करेंगे.

सहयोगियों को साधने में जुटी बीजेपी

अगले आम चुनाव और हाल के दिनों में उपचुनावों में मिली हार से सबक लेते हुए बीजेपी अब अपने सहयोगियों को मनाने में जुट गई है. बीजेपी को अब उसके अपने सहयोगियों, विधायकों से लेकर कार्यकर्ताओं की याद आने लगी है.

बिहार और यूपी के लोकसभा उपचुनाव में बीजेपी की करारी हार और टीडीपी के एनडीए से बाहर जाने के बाद केंद्रीय मंत्री और लोकजन शक्ति पार्टी के अध्यक्ष रामविलास पासवान और चिराग पासवान ने एनडीए में साथी दलों के साथ भेदभाव को लेकर सवाल उठाए थे. उन्होंने कहा था कि जिस तरह से बीजेपी यूपी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की परंपरागत सीट गोरखपुर और उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की फूलपुर सीट पर हारी है, उसे देखते हुए अब समय आ गया है, बीजेपी अपने सहयोगियों के साथ बैठकर आगे की रणनीति तय करे और अपने सहयोगियों की राजनैतिक मजबूरियां समझे.

इसी सिलसिले में मंगलवार को केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान बीजेपी महासचिव और बिहार बीजेपी के प्रभारी भूपेंद्र यादव के साथ केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान से मुलाकात की. एनडीए पर पासवान के सुझावों और उनकी नाराजगी सुनने के बाद आश्वासन दिया गया कि उनकी सभी बातों को पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह तक पहुंचा दिया जाएगा.

You may also like

CM योगी का तीखा वार: कहा- अखिलेश की हालत ‘मान ना मान, मैं तेरा मेहमान’ वाली

उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा ने सपा प्रमुख