अधिक ग्रीन टी पीना भी है सेहत के लिए नुकसानदायक, हो सकती हैं ऐसी ये समस्याएं

- in हेल्थ

ग्रीन टी के फायदे तो हम सब बहुत सुनते हैं और आजकल की तनाव भरी लाइफ स्टाइल में इसका सेवन वाकई बेहद लाभदायक होता है पर कहते हैं ना अति किसी भी चीज की बुरी होती है.. दवा का भी सेवन एक सीमा के बाद ज़हर का काम करता है.. यही बात ग्रीन टी के साथ भी लागू होती है। अगर ग्रीन टी का सेवन भी बहुत ज्यादा मात्रा में कर लिया जाए तो ये सेहत के लिए लाभदायक होने की बजाए हानिकारक हो सकती है। आज हम आपको इसी विषय में बता रहे हैं.. तो चलिए जानते हैं कि अधिक मात्रा में ग्रीन टी का सेवन करने से किस तरह की स्वास्थ्य समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं..

वैसे तो ग्रीन टी कई तरह से सेहत के लिए फायदेमंद होता है इसके सेवन से शरीर से टॉक्सिन्स बाहर निकल जाते हैं जिसे त्वचा संबंधी समस्याओं के साथ दूसरी बहुत सारी बीमारियों से बचाव होता है लेकिन इतने सारे फायदे के साथ इसका सेवन नुसानदायक भी हो सकता है अगर एक सीमित मात्रा से अधिक इसका सेवन किया जाए। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार एक दिन में लगभग 300-400 मिग्रा तक ही ग्रीन टी का सेवन करना चाहिए। इसके बाद ग्रीन टी का सेवन नुकसानदायक होता है जिससे कई तरह की स्वास्थ्य सम्बंधी समस्याएं हो सकती है .. जैसे कि ..

नींद की समस्या

बहुत अधिक ग्रीन टी का सेवन करने से नीद ना आने की समस्या हो सकती है .. इसलिए रात के वक्त सोने से पहले तो कभी ग्रीन टी का सेवन नहीं करना चाहिए। ये आपकी नाड़ियों को सक्रिय कर देता है और इस वजह से आपको नींद नहीं आती है और फिर आप देर रात तक जागते रहते हैं।

पेट संबंधी समस्याएं

वैसे तो ग्रीन टी में कैफीन बहुत कम मात्रा में पाया जाता है पर अगर इसका ज्यादा सेवन कर लिया जाए तो उतना कैफीन भी आपके पेट में एसिड की मात्रा बढ़ा देता है और फिर उससे पाचन संबंधी समस्याएं होती हैं। जिससे कि पेट दर्द और उल्टी की समस्या हो सकती है।

एनीमिया की संभावना

एक स्वास्थ्य शोध के मुताबिक बहुत अधिक मात्रा में ग्रीन टी का सेवन करने से एनीमिया की संभावना बढ़ जाती है । दरअसल ग्रीन टी में टैनिंस और पॉलीफेनाल्स नाम के तत्व पाए जाते हैं जिससे शरीर के आयरन अवशोषित करने की क्षमता पर असर पड़ता हैं और ऐसे में एनीमिया हो सकता है।

दिल की धड़कन पर प्रभाव

अगर अधिक मात्रा में ग्रीन टी के सेवन किया जाए तो इसमें मौजूद कैफीन दिल की धड़कन को अनियमित कर सकता है जो कि सेहत के लिए बहुत घातक हो सकता है।

मांसपेशियों में मरोड़

बहुत अधिक मात्रा में ग्रीन टी का सेवन करने से मांसपेशियों में मरोड़ हो सकता है। असल में ग्रीन टी में पाया जाने वाला कैफीन सेग सिंड्रम का कारण होता है और इससे पैरों में मरोड़ आ सकता है।

डायरिया

वहीं ग्रीन टी का बहुत अधिक सेवन करने से डायरिया भी हो सकता है। साथ ही इससे उल्टी और पेट में मरोड़ हो सकता है। दरअसल एक शोध के अनुसार ग्रीन टी में मौजूद पॉलीफेनॉल्स ऑक्सीडेटिव तनाव का कारण बनते हैं। ऐसे में ज्यादा मात्रा में ग्रीन टी पीने से उल्टी और मिचली आती है।

You may also like

शरीर में खून की कमी को पूरा करता हैं ये आहार

अगर किसी व्यक्ति के शरीर में खून की