Home > जीवनशैली > पर्यटन > अगर बरसात में जा रहे हैं घूमने, तो जरुर बनाइये यहाँ का प्लान

अगर बरसात में जा रहे हैं घूमने, तो जरुर बनाइये यहाँ का प्लान

बरसात का मौसम हो और घूमने जाना इसकी बात ही अलग होती है और फिर घूमना-फिरना किसे अच्छा नहीं लगता। हर आदमी अपनी लाइफ़ में कहीं न कहीं घूमना ज़रूर चाहता है और मौका मिलने पर घूमने जाता भी है। अक्सर लोग या तो किसी शांत जगह पर जाना चाहते हैं या किसी यूनीक जगह पर। लेकिन हमें ज्यादातर भीड़-भाड़ वाली जगहें ही मिलती हैं। आजकल हर टूरिस्ट प्लेस पर भीड़ बढ़ती जा रही है। लेकिन हमने आपके लिए इंडिया की कुछ ऐसी जगहें खोज निकाली हैं जो बेहद शांत और चुनिंदा हैं। यहां जाकर आप ज़िंदगी का पूरा लुत्फ़ ले सकते हैं।अगर बरसात में जा रहे हैं घूमने, तो जरुर बनाइये यहाँ का प्लान

1-लैटलुंम कैनयॉन्स
नेचर की खूबसूरती देखने के लिए इससे बेहतर जगह कोई और नहीं हो सकती। इंडिया की यह दर्शनीय जगह मेघालय के शिलांग में है। यहां लैटलुंम कैनयॉन्स पहाड़ियों का सौंदर्य देखने लायक है। मेघालय वैसे भी बेहद ही सुंदर और आकर्षक जगह है। इन पहाड़ियों पर जाने के लिए आपको कोई सड़क नहीं मिलेगी। फिर भी चढ़ाई का रास्ता बहुत ही ख़ूबसूरत और हरियाली भरा है। आप यहां काफी एन्जॉय करेंगे। लेकिन यहां जाने पर आपको सांपों और ख़तरनाक जानवरों से सावधान रहना होगा। इन पहाड़ियों पर खड़े होकर आप आसपास के गांवों को भी देख सकते हैं।

2-खिमसर ड्यून्स विलेज
राजस्थान को इंडिया के रॉयल पैलेस के नाम से जाना जाता है। आप जोधपुर, उदयपुर और जयपुर जैसी जगहों पर गए होंगे। लेकिन क्या आप खिमसर ड्यून्स विलेज गए हैं? नहीं ना! यह जगह खिमसर फोर्ट से 15 मिनट की दूरी पर है। यहां आपको चारों तरफ रेत ही रेत नज़र आएगा। यहां आप कार, जीप, घोड़े और ऊंट से जा सकते हैं। यह रेत में बना एक छोटा-सा खेड़ा है, जो दूर या ऊंचाई से देखने पर सुंदर लगता है। इस गांव में कहीं-कहीं आपको पेड़ और पानी भी दिखाई पड़ जाएगा। यह अपने-आप में आश्चर्य की तरह है। थार रेगिस्तान की सुंदरता देखने के लिेए आप यहां जा सकते हैं।

3-कास पठार, महाराष्ट्र
अगर आपको भी फिल्म की तरह फूलों के खेत में भागकर अपने पार्टनर के गले लगने का मन है तो आपके लिए महाराष्ट्र का कास पठार इसके लिए परफेक्ट है। यह जगह सतारा सिटी से 22 किमी दूर है। यहां पर आपको 850 तरह के अलग-अलग फूल मिलेंगे। यहां पर अगस्त और सितंबर में आना ज़्यादा बढ़िया रहता है, क्योंकि बारिश में यहां की ख़ूबसूरती देखते ही बनती है।

4-अनंतपुर लेक मंदिर,केरल 
क्या आपने कभी वेजिटेरियन क्रोकोडाइल के बारे में सुना है। केरल के अनंतपुर लेक मंदिर में रहने वाले बबिया और उसके परिवारवालों के अनुसार, 150 साल का मगरमच्छ इस मंदिर की सुरक्षा कर रहा है। इस मंदिर तक पहुंचने के लिए आपको पुल से जाना होगा। यहां जाकर आपको लगेगा कि किस पुरानी दुनिया में आ गए हैं। यह मंदिर 9वीं शताब्दी का बना हुआ है। यह केरल के कासरगोड जिले में स्थित है।

5-आदिकालीन गुफा
अगर आपकी रुचि हिस्ट्री में है तो आपके लिए भीमबेटका जा सकते हैं। यह मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के पास स्थित है। यहां की गुफाएं आदिकालीन है। इन गुफाओं की पेंटिंग देखकर आपको यकीन हो जाएगा कि लाखों साल पहले भी मनुष्य में कला रचना की प्रवृत्ति थी। इन गुफाओं में आपको मनुष्य और जानवरो के अलावा कई तरह की चीज़ों की चित्रकारी की गई है। ये सारे चित्र और रेखांकन आदि मानव ने बनाएं हैं, जिनका निवास स्थान ये गुफाएं थीं। इन गुफाओं की खोज 1957 में हुई थी। इनमें से 15 गुफाएं पब्लिक के लिए ओपन हैं। दुनिया भर से अध्येता इन्हें देखने आते हैं।

6-थॉसेघर फॉल्स 
अगर आप लोनावला या खंडाला गए हैं और थॉसेघर फॉल्स नहीं गए तो आपने बहुत ही खास चीज़ नहीं देखी। यह जगह बेहद ही छोटे से खेड़े में है। सतारा सिटी से 20 किमी की दूरी पर थॉसेघर फॉल्स है। यहां जाकर आप तैरने और पानी में मस्ती करने का लुत्फ ले सकते हैं। यहां का माहौल आपको काफी पसंद आएगा। यहां की ठंडी हवाएं आपको दिल को खुश कर देंगी। यहां इतनी शांति है कि आप सुकून के लिए बार-बार इस जगह पर आना चाहेंगे।

7-रोजरी चर्च, कर्नाटक
कुछ जगहें ऐसी होती हैं जिन्हें हम सिर्फ़ सपनों में ही देख पाते हैं, लेकिन इस जगह को देखकर आप कहेंगे कि वास्तव में सपनों की दुनिया तो यही है। रोजरी चर्च, शेट्टिहाली – 1860 के आसपास इस चर्च को हसन में हेमवती नदी के पास बनाया गया था। यह फ्रेंच मिशनरी के द्वारा बनवाया गया चर्च है। बाढ़ की वजह से अब इस चर्च का सिर्फ ढांचा ही खड़ा है। कुछ समय पहले सरकार ने इस इमारत की तरफ ध्यान दिया था, लेकिन इसका काम आज भी अधूरा पड़ा है।

8-मैवलेनॉन्ग विलेज 
आपको यकीन नहीं होता कि इंडिया में भी एक गांव ऐसा भी है, जो एशिया का सबसे साफ गांव माना जाता है। तो चलिए, हम बता ही दें। यह मैवलेनॉन्ग विलेज है। यहां के लोगों ने इस गांव को सफाई के मामले में अव्वल बना रखा है। इस गांव को हरे रंग से कलर किया गया है। बारिश होने पर और सुंदर लगने लगता है। इसके अलावा, आपको यहां की नेचुरल ब्यूटी का लुत्फ़ ले सकते हैं।

9-इंडिया का सबसे बड़ा वाटरफॉल
चेरापूंजी इंडिया में ऐसी जगह है जहां सबसे ज़्यादा बारिश होती है। यहां सबसे बड़ा वाटरफॉल भी है जिसकी लंबाई 1115 फीट है। यहां शिलांग से 3 घंटे की ड्राइव करके जा सकते हैं। बरसात के दिनों में यहां का नज़ारा देखने लायक होता है। चारों तरफ हरियाली ही हरियाली आपका मन मोह लेगी।

10-ऐशवेम बीच नॉर्थ गोवा
इंडिया में बीच का लुत्फ आपको जितना गोवा में मिलेगा, उतना कहीं भी नहीं। ऐशवेम बीच नॉर्थ गोवा में है। यह बीच शांत और साफ-सुथरा है। यहां ज्यादा भीड़ नहीं होती और आपको रुकने के लिए सस्ते कमरे मिल सकते हैं। अगर आप यहां बीच के किनारे पर योगा करना चाहते हैं तो योगा क्लास की भी सुविधा है।

Loading...

Check Also

ऊटी की खूबसूरत वादियां आपके अकेले सफर को भी बना देंगी मजेदार

ऊटी की खूबसूरत वादियां आपके अकेले सफर को भी बना देंगी मजेदार

ट्रैवलिंग का शौक पुराना हो या नया, सोलो ट्रीप पर जाने का ख्वाब लगभग हर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com