अगर आप मां बनने वाली हैं तो हो जाये सावधान…

- in हेल्थ

हाल ही में हुई एक स्टडी के मुताबिक यूनाइटेड स्टेट्स में एयर पॉल्यूशन के कारण बच्चे समय से पहले ही जन्म ले रहे हैं। एयर पॉल्यूशन अब प्रीमैच्योर बर्थ का कारण बन गया है। यहां तक की इस वजह से महिलाओं में इनफ र्टिलिटी की समस्या भी बढ़ रही है। रिसर्चर्स का मानना है कि एयर पॉल्यूशन से  प्रेग्रेंसी के दौरान प्लेसेंटा में जलन होती है, जिससे समय से पहले बच्चे का जन्म होता है।  

फायदे के साथ-साथ नुकसान भी दे सकता है गर्मियों में खरबूजा खाना

समय से पहले बच्चे होने से कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती हैं, यहां तक कि अपंगता भी हो सकती है। आपका बच्चा प्रीमैच्योर है, तो उसकी ठीक से देखभाल बेहद जरूरी है। बच्चे को पर्याप्त मात्रा में पोषण भरा आहार यानी मां का दूध मिलता रहे। नवजात को गाय या भैंस का दूध न पिलाएं। ये नवजात की सेहत के लिए खतरनाक साबित हो सकता हैं। इंफेक्शन से बचाएं, क्योंकि समय से पूर्व जन्मे बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बहुत कम होती है। 

कंगाऊ केयर की प्रीमैच्योर बेबी को बहुत जरूरत होती है। कंगारू केयर यानी बच्चे को गोद में अधिक देर तक ममता देने से बच्चे स्वस्थ और तंदरुस्त रहते हैं। हाल ही में ब्रिटेन में हुए एक शोध में यह बात सामने आई है। शोधकर्ताओं का कहना है कि बच्चों को कंगारू की तरह शरीर से चिपकाकर रखने से समय पूर्व जन्म लेने वाली संतानों की मृत्युदर और विकलांगता की दर में विश्व स्तर पर कमी लाई जा सकती है। ये तकनीक खासतौर पर अपरिपक्व शिशुओं के लिए मददगार होती है।

 

ये 5 जूस जरूर पीएं, तन-मन रहेगा टनाटन

13 फीसदी बच्चे समय से पहले पैदा होते हैं देश में

22 फीसदी भारतीय होते हैं दुनिया के कुल प्री मैच्योर बच्चों में से

10.51 लाख का फंड दिया केन्द्र सरकार ने प्री मैच्योर बच्चों के लिए

पिछले वित्त वर्ष में

7.92 लाख खर्च किए इनमें से राज्यों ने

10 राज्य जिन पर है सबसे ज्यादा ध्यान उनमें शामिल है राजस्थान

loading...
=>

You may also like

सावधान! नाखून चबाना हो सकता है जानलेवा, जाने क्यों?

बैठे-बैठे कई लोग अचानक नाखून चबाने लगते हैं.